पूर्णिया: बिहार में पूर्णिया शहर के रंगभूमि मैदान में जनभावना रैली को सम्बोधित करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि बिहार का सीमावर्ती यह जिला हिंदुस्तान का हिस्सा है। किसी से डरने की जरूरत नहीं है। देश में नरेन्द भाई मोदी की सरकार है।

बिहार में महागठबंधन सरकार पर जोरदार प्रहार करते हुए अमित शाह ने कहा कि जंगल राज्य का उदय हो गया है। लगातार गोलीबारी बलात्कार अपहरण लूट हत्याएं बीते एक महीने की महागठबंधन सरकार में चरम पर पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि दल बदल कर नीतीश बाबू प्रधानमंत्री बनने का ख्वाब देख रहे हैं।

अमित शाह ने कहा कि अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत से ही नीतीश कुमार सभी को धोखा देते आ रहे हैं। पहले उन्होंने लालू को धोखा दिया फिर अपने पार्टी के सबसे बड़े समाजवादी नेता जॉर्ज फर्नांडिस को धोखा दिया फिर शरद यादव को धोखा दिया। भाजपा को दो बार और दलितों के नेता जीतनराम मांझी को भी नहीं बख्शा। उनके जीन में ही धोखा देने का सार छुपा हुआ है। वह केवल कुर्सी के पुजारी हैं, चाहे इसके लिए नीतीश कुमार को कुछ भी करना पड़े।

अमित शाह ने कहा कि 2020 के विधानसभा चुनाव में बिहार की जनता ने नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र की भाजपा नीत एनडीए सरकार को बहुमत दिया था। उस बहुमत के साथ नीतीश कुमार ने धोखाधड़ी कर बहुत बड़ा अपराध किया है, जिसका जवाब जनता 2024 में उनका सुपड़ा साफ कर देगी।

अमित शाह ने कहा कि 2024 में जहां बड़े भाई छोटे भाई का सूपड़ा साफ होगा, वही 2025 में भी भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बिहार में आएगी। बिहार में भी कमल खिलेगा। उन्होंने कहा कि बिहार के इन सीमांचल जिलों में जनजातियों पर अत्याचार किया जा रहा है। उन्हें भगाया जा रहा है, डराया जा रहा है। केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार जो योजना जनजातियों के लिए भेजती है वह उन तक पहुंच नहीं पाता है। रास्ते में ही कुछ दबंग किस्म के लोग खा जाते हैं।

ललन सिंह पर तंज कसते हुए अमित शाह ने कहा कि जिस लालू का ललन बाबू विरोध करते थे और कहते थे चारा चोर वही, चारा चोर अब सत्ता में है, अब क्यों नहीं उनकी बोली निकल रही है। अमित शाह ने कहा कि बिहार में वर्तमान सरकार सीबीआई का विरोध कर रही है। उसे इस बात का डर है कि सीबीआई कहीं फिर से कोई घोटाले का पर्दाफाश ना कर दे।

उन्होंंने कहा कि बिहार और झारखंड वामपंथी उग्रवादियों का गढ़ कहा जाता था जिसे बीते आठ साल में केंद्र की नरेन्द मोदी सरकार ने उखाड़ फेंका है। मोदी सरकार गरीबों की सरकार है। देश में गरीबों के लिए मोदी सरकार ने घर बनवाए। माताओं-बहनों को मुफ्त सिलेंडर दिए। पांच लाख तक का स्वास्थ्य बीमा गरीबों को दिया।

Previous articleराँची आरटीए सचिव से झारखंड प्रदेश डीजल ऑटो चालक महासंघ के सदस्य मिलें
Next articleAadhaar Card : बच्चे का आधार बनवाने के लिए क्या है जरूरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here