छपरा : सेना में बहाली हेतु नवगठित अग्निपथ बहाली प्रक्रिया के विरोध मे छपरा में छात्रों ने उग्र आंदोलन को अंजाम दिया। प्रदर्शनकारी छात्रों की भीड़ में लोगों ने रेलवे, सरकारी संपत्ति सहित निजी मॉल एवं स्थानीय बीजेपी विधायक के घर को निशाना बनाते हुए उग्र आंदोलन किया। आंदोलनकारियों ने छपरा जंक्शन स्टेशन पर खड़ी निरीक्षण यान एवं एक अन्य ट्रेन को आग के हवाले करते हुए अन्य ट्रेनों को व्यापक क्षति पहुँचाया।

भगवान बाजार स्थित स्थानीय भाजपा विधायक डॉ सीएन गुप्ता के आवास पर दो सौ की संख्या में पहुँचे आंदोलनकारियों ने उनके घर एवं लैब के शीशे को चकनाचूर करते हुए भाजपा सरकार एवं उनके नीतियों का विरोध किया। इस दौरान विधायक ने जिले के आला अधिकारी व स्थानीय थाना को फोन कर घटना की सूचना दीं । विधायक ने कहा कि पुलिस की विफलता से आंदोलन में विरोधी दल के लोग शामिल होकर उनके आवास पर उत्पात मचाया। इस दौरान उनके फोन को भागवान बाजार पुलिस द्वारा नही रिसीव किया गया। उग्र आंदोलनकारियों ने सड़क पर जगह-जगह आगजनी कर यातायात को घंटों अवरुद्ध किया वहीं शहर के कई मॉल के सीसे को तोड़ डाला।

आंदोलन के भयावहता को देखते हुए डीएम-एसपी ने दर्जनों पुलिस बल एवं अन्य अधिकारियों के साथ ध्वनि विस्तारक यंत्र से लोगों को घरों में रहने की अपील करते हुए शांति व्यवस्था कायम करने में आम लोगों को सहयोग करने की गुजारिश कीं। वहीं शहर के काशी बाजार , गुदरी, राजेन्द्र कॉलेज मोड़ आदि निजी कोचिंग इलाकों में जाकर शांति की अपील कीं। लोकतंत्र में अहिंसात्मक रूप से विरोध जायज हैं परंतु आसामाजिक तत्व मौके की आड़ में आंदोलन को हिंसक रूप देते हुए सरकारी एवं निजी संपत्ति को जब व्यापक क्षति पहुंचाने लगते हैं तो सभ्य समाज इसे गलत करार देता है।

Previous articleसारण एसएफआई ने सैनिक बहाली प्रकिया के खिलाफ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का किया पुतला दहन
Next articleअग्निपथ के विरोध धधक रहा बिहार, उपद्रवियों ने बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस और जम्मूतवी-गुवाहाटी ट्रेन में लगाई आग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here