छपरा: जिला के प्रसिद्ध पहलवान अल्हाज फजलुर रहमान उर्फ उस्ताद का निधन शनिवार की देर रात हृदयाघात से हो गया. वे अपने धार्मिक, सामाजिक और कल्याण कार्यों के लिए क्षेत्र में बहुत प्रसिद्ध थे. पहलवानी के क्षेत्र में उन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर जिला का प्रतिनिधित्व किया और जिला समेत देश भर में उनके शिष्य मौजूद हैं. वे उस्ताद के नाम से जाने जाते थे. आजीवन शहर के जामा मस्जिद व दारुल उलूम नइमिया के सचिव रहे. हजरत मौलाना नईमुद्दीन साहेब के सहयोगियों में थे. लंबे समय तक दारुल उलूम नइमिया और जामा मस्जिद समेत करीमचक खानकाह की सेवा में लगे रहे. उन्हें सामाजिक संस्था जमीयत-उल-अंसार के अध्यक्ष के रूप में भी चुना गया था. उन्होंने सरकारी नौकरी में रहते हुए सेवा के सभी कार्य अंजाम दिये. वह 1995 में कलेक्ट्रेट से सेवानिवृत्त हुए थे. अपने पीछे तीन बेटों और आठ बेटियों का भरापूरा परिवार छोड़ गये हैं. पहलवान श्री रहमान के निधन पर विधान परिषद के पूर्व उप सभापति सलीम परवेज, जमीयत के सचिव अब्दुल कादिर, उप सचिव फहीम अख्तर उर्फ ​​साहेब, अब्दुल खालिक, डॉ शकील अख्तर, डॉ खुर्शीद आलम और दारुल उलूम के सदस्य शहाब अहमद राईन, राहतुन नईम, मुहम्मद वजीर, हसरतुन नईम, हाजी सलाहुद्दीन, जमाल अहमद आदि ने शोक संवेदना व्यक्त किया है.

Previous articleसर्पदंश हो तो झाड़फूंक के चक्कर में न पड़ें, पहुंचे सरकारी अस्पताल मौजूद है सर्प दंश का सफल इलाज: डॉ संतोष कुमार
Next articleलायंस क्लब के विभिन्न संघटन द्वारा मनाया गया पूर्व जिलापाल का जन्मदिवस.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here