प्रधानमंत्री ने करीबन 15 हजार से ज्यादा लोगों के साथ योगाभ्यास किया। प्रधानमंत्री ने योग की शुरुआत ताड़ासन, त्रिकोणासन, भद्रासन जैसे आसनों से की। पीएम मोदी ने योगा का महत्तव बताते हुए कहा कि-‘साथियों दुनिया के लोगों के लिए योग सिर्फ ‘पार्ट ऑफ लाइफ’ नहीं है बल्कि अब ‘वे ऑफ लाइफ’ बन रहा है। हमने देखा है कि हमारे यहां घर के बड़े, हमारे योग साधक दिन के अलग-अलग समय में प्राणायाम करते हैं, फिर दोबारा काम शुरू करते हैं। हम कितने भी तनाव में हों कुछ मिनट का योग हमारी पॉजिटिविटी और प्रोडक्टिविटी को बढ़ा देता है। हमें योग को पाना भी है, पनपाना और जीना भी है।’
आज योग मानव मात्र को निरोगी जीवन का विश्वास दे रहा है। हम आज सुबह से देख रहे हैं कि योग की तस्वीरें जो कुछ वर्ष पहले आध्यात्मिक केंद्रों पर दिखती थीं, वो आज विश्व के कोने-कोने में दिख रही हैं। 
PM मोदी ने आगे कहा- ‘देश आजादी की 75वीं सालगिरह मना रहा है। ऐसे में देश के 75 ऐतिहासिक केंद्रों पर एक-साथ योग किया जा रहा है। यह भारत के अतीत को भारत की विविधिता को एक सूत्र में पिरोने जैसा है। दुनिया के अलग-अलग देशों में सूर्योदय के साथ लोग योग कर रहे हैं। जैसे-जैसे सूर्य आगे बढ़ रहा है उसकी प्रथम किरण के साथ लोग अलग-अलग देशों में लोग साथ जुड़ते जा रहे हैं।

वहीं, उत्तराखंड के हरिद्वार में बाबा रामदेव ने मंगलवार सुबह लोगों को योगाभ्यास कराया. इस दौरान सैकड़ों की संख्या में महिलाएं और बच्चे मौजूद रहे. बता दें कि पीएम मोदी ने कई योगासन किए और देश को फिटनेस का संदेश दिया।
इस अवसर पीएम मोदी ने कहा, ”हमें योग को एक अतिरिक्त काम के तौर पर नहीं लेना है। हमें योग को जानना है और जीना भी है, अपनाना भी है, पनपाना भी है। जब हम योग को जीने लगेंगे तब योग दिवस हमारे लिए योग करने का नहीं बल्कि अपने स्वास्थ्य, सुख, और शांति का जश्न मनाने का माध्यम बन जाएगा। योग मानव मात्र को निरोग जीवन का विश्वास दे रहा है।”
राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी योग दिवस पर राष्‍ट्रपति भवन में योग किया। उन्‍होंने कहा कि योग प्रचीन भारतीय विरासत का हिस्‍सा रहा है। यह मानवता के लिए एक उपहार है।
रामदेव ने कहा कि हमें प्रतिदिन चार से पांच आसन जरूर करने चाहिए। उन्‍होंने कहा कि योग सभी के लिए है इसे किसी धर्म या राजनीति के चश्‍मे से न देखें।
इंटरनेशनल योगा डे पर उत्‍तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने भी लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में हिस्‍सा लिया। इस मौके पर सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि हम सब आभारी हैं प्रधानमंत्री मोदी के जिन्होंने भारत की ऋषि परंपरा के इस उपहार को न केवल भारत के अंदर बल्कि दुनिया के अंदर पहुंचाया है। सीएम योगी आदित्‍यनाथ के अलावा यूपी की गवर्नर आनंदी बेन पटेल ने भी लखनऊ के कार्यक्रम में हिस्‍सा लिया। वहीं, फतेहपुर सीकरी में केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने भी योगाभ्‍यास किया।

Previous articleबॉम्बे जिम में मनाया गया, 8 वॉ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस
Next articleसारण में सभी कोचिंग संस्थान को 22 जून तक बंद रखने का दिया गया निदेश- जिलाधिकारी

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here