नई दिल्ली: हनुमान जयंती के मौके पर राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी में हुई हिंसा के 5 आरोपियों को रोहिणी कोर्ट ने 8 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है. कोर्ट ने जिन आरोपियों को 8 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा है उसमें अंसार, सलीम चिकना, इमाम शेख उर्फ सोनू चिकना, दिलशाद व अहीर शामिल हैं. वहीं हिंसा मामले में फरार पांच आरोपियों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया है. अदालत ने सनवर कालिया, सद्दाम खान, अनवर, चांद, सलमान के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया है.

इन सभी आरोपियों पर पहले ही गृह मंत्रालय द्वारा रासूका लगाया जा चुका है. आज दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने हिंसा के आरोपी सलीम चिकना, इमाम शेख उर्फ सोनू चिकना, दिलशाद व अहीर समेत 9 आरोपियों की रोहिणी अदालत में वर्चुअल पेशी कराई. 

वर्चुअल पेशी के दौरान क्राइम ब्रांच ने अदालत के सामने दलील दी कि मामला बेहद संवेदनशील है इसलिए अभी और पूछताछ होनी बाकी है, जिससे साजिश में शामिल अन्य आरोपियों का पता लग सके. क्राइम ब्रांच की ओर से कोर्ट में कहा गया कि इस मामले की जांच के लिए उन्हें पश्चिम बंगाल और अन्य जगहों पर जाना पड़ सकता है, ऐसे में उन्हें पूछताछ के लिए वक्त दिया जाए. पुलिस ने जांच संबंधित अन्य दलीलों का हवाला देते हुए कोर्ट से इन आरोपियों की 8 दिन की पुलिस रिमांड मांग की.

Previous articleबिजली विभाग की अधिकारी है नींद में, बाजारों में फैला मौत का जाल
Next articleआदित्य अग्रवाल भामाशाह सम्मान से हुए सुशोभित, अंतरराष्ट्रीय वैश्य समाज द्वारा पटना में मिला विशेष सम्मान.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here