छपरा : बिहार के सारण जिले के अलग-अलग प्रखंडों में तेज आंधी और बारिश के दौरान ठनका गिरने से मां-बेटी समेत तीन लोगों की मौत हो गई. वहीं, आधा दर्जन लोग झुलस कर गंभीर रूप से घायल हो गए. पहली घटना जिले के मांझी प्रखंड की है. जहां तीन गांवों में व्रजपात हुआ. इसमें एक युवक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. जबकि दो लोग गम्भीर रूप जख्मी हो गए. उधर दरियापुर के टड़वा मगरपाल गांव से बजहिया आ रही एक महिला और उसकी सात माह की दूधमुही बच्ची की बिजली गिरने से मौत हो गई.

32 वर्षीय युवक की मौतः जानकारी के अनुसार समतापार व कोहड़ा मठिया स्थित पावर सब स्टेशन के मध्य ठनका गिरने एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसका साथी गम्भीर रूप से जख्मी हो गया, उसका इलाज दाउदपुर स्थित एक निजी क्लिनिक में चल रहा है. मृतक कोहड़ा मठिया निवासी स्व रवींद्र पूरी का 32 वर्षीय पुत्र ओम पुरी उर्फ छोटू बताया जा रहा है. जबकि जख्मी युवक उसी गांव के विनोद पूरी का पुत्र संजीव पूरी है, जो खतरे से बाहर बताया जाता है.

एक युवक की बची जानः बताया जाता है कि दोनों युवक किसी काम से पड़ोसी गांव कोपा थाना क्षेत्र कुमना गांव गए हुए थे. काम होने के बाद दोनों बाइक से अपने घर लौट रहे थे. उस समय हल्की बारिश हो रही थी. जैसे ही वे कोहड़ा मठिया स्थित पावर सब स्टेशन के करीब पहुंचे, तभी तेज गरज के साथ ठनका गिर पड़ा. जिसके चपेट में आने से मौके पर ही ओम पुरी उर्फ छोटू की मौत हो गई. जबकि संजीव बुरी तरह से जख्मी हो गया.

युवक की डेढ़ वर्ष पहले हुई थी शादीः घटना की जानकारी मिलते पर मृतक के परिवार में कोहराम मच गया. मां माया देवी, पत्नी नेहा देवी समेत परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. उधर सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची दाउदपुर थाना पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल छपरा भेज दिया. मृतक ओम पुरी की डेढ़ वर्ष पहले ही शादी हुई थी. उसकी पत्नी ने अभी 22 दिन पहले एक बच्ची को जन्म दिया है.

सात माह की दूधमुही बच्ची की मौतः वहीं, दूसरी घटना दरियापुर के टड़वा मगरपाल गांव की है, जहां से एक महिला अपने मैके बजहिया आ रही थी. इसी दौरान वो और उसकी सात माह की दूधमुही बच्ची ठनका गिरने से उसकी चपेट में आ गई और दोनों की मौत हो गई. मृतक मगरपाल गांव निवासी सचिता महतो की पुत्र वधू व लवकुश महतो की 22 वर्षीय पत्नी कलावती देवी है. जो अपनी 7 महीने की बेटी रौशनी कुमारी और चचेरे भाई अरुण कुमार महतो के साथ बजहिया आ रही थी. उसी बीच लक्ष्मन्चक चवर में वर्षा होने के वजह से बाइक चला रहा युवक बहन को बोला बाइक का चक्का फिसल रहा है गिर जाएंगे, तुम पैदल ही कुछ दूर चलो रास्ता सही आने पर पुनः बाइक पर बैठा लेंगे.

ठनका गिरने से कई लोग जख्मीः भाई के कहने पर महिला अपने बच्ची के साथ पैदल चलने लगी, तभी बादल के गरजने के साथ ही ठनका उसके ऊपर गिर. जिससे महिला और बच्ची दोनो की झुलसकर मौत हो गई. वहीं, बाइक चला रहा युवक बाल बाल बच गया. उसको खरोंच तक नहीं आई. उधर, एक अन्य घटना में बरेजा गांव में ठनका गिरने से खेत में घास चर रही राजकुमार यादव की एक भैंस की मौत हो गई. जबकि राजकुमार यादव बाल-बाल बच गए. जबकि नटवर बीरबल गांव से अपने घर लौट रहे चंदउपुर श्रीराम राय की सबदरा गांव के समीप ठनका गिरने के कारण झुलस कर जख्मी हो गए.

मौसम विभाग का ऑरेंज अलर्ट: आपको बता दें कि मौसम विभाग ने बिहार के 18 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. साथ ही लोगों को सलाह दी है कि घर में ही रहे हैं. तेज बारिश के समय पक्के मकान में छिप जाएं. पेड़ और खाली स्थान से दूर रहें. गौरतलब है कि बिहार में मॉनसून शुरू होने के बाद से ही मौसम विभाग लगातार भारी बारिश और तेज हवा के साथ वज्रपात की चेतावनी दे रहा है. विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार मॉनसून 29 जून तक जोर पकड़ सकता है.

Previous articleहार्ट में था मेजर ब्लॉकेज,आयुष्मान भारत योजना बना सहारा
Next articleश्रावणी मेला के पूर्व सभी प्रशासनिक तैयारियां पूर्ण करें-जिलापदाधिकारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here