सारण, छपरा 13 जुलाई : प्रधान सचिव पंचायती राज विभाग, बिहार सरकार श्री मिहिर कुमार सिंह की अध्यक्षता में पंचायती राज विभाग सारण जिला के विभिन्न योजनाओं के प्रगति के निमित समीक्षात्मक बैठक सारण समाहरणालय सभागार में आहूत की गयी।
जिलाधिकारी सारण श्री राजेश मीणा के द्वारा सर्वप्रथम पुष्पगुच्छ देकर प्रधान सचिव एवं आयुक्त सारण प्रमंडल श्रीमती पूनम का स्वागत किया गया। बैठक में प्रधान सचिव महोदय के द्वारा पंचायत सचिव के रिक्ति से संबंधित रोस्टर की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गयी। जिलाधिकारी महोदय के द्वारा इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया गया कि जिला में पंचायत सचिवों की कुल 318 स्वीकृत बल है। जिनमें 81 पर ही पंचायत सचिव पदस्थापित है। शेष 231 पद रिक्त है। इस पर सचिव महोदय के द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि सरकार के स्तर से पंचायत सचिव के पद पर बहाली हेतु व्यापक तैयारी की जा रही है। इस संबंध में आयुक्त महोदया को प्रमंडल के तीनों जिलों से रिक्ति का रोस्टर अविलम्ब भेजने को कहा गया। सारण जिला से रोस्टर रिक्ति का व्यौरा भेज दिये जाने की जानकारी जिला पदाधिकारी के द्वारा दी गयी। सीवान एवं गोपालगंज जिला की रिक्ति को भी अविलम्ब भेजने का निर्देश आयुक्त महोदय को दिया गया।

जिला में 32 पंचायत सरकार भवन के क्रियाषील होने एवं 35 सरकार भवनों के निर्माणाधीन होने की जानकारी दी गयी। 31 जगहों पर पंचायत सरकार भवन निर्माण हेतु जमीन के चिन्हित कर लिये जाने की जानकारी जिला पंचायती राज पदाधिकारी सारण के द्वारा दी गयी। प्रधान सचिव महोदय के द्वारा पंचायत सरकार भवन के निर्माण के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी देते हुए बताया गया कि बिहार सरकार के द्वारा शत-प्रतिषत पंचायतों के पंचायत सरकार भवन बनाने का निर्णय लिया गया है। चालू वित्तीय वर्ष में कुल पंचायत भवनों की संख्या का सतर प्रतिशत निर्माण कार्य कराया जाना है। इस संबंध में उपस्थित प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारीगण को त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया। प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारीगणों को अपने-अपने क्षेत्रान्तर्गत सभी पंचायत सरकार भवन को निरीक्षण करने का भी निर्देश दिया गया। सभी पंचायत सरकार भवन में बिजली का कनेक्शन, इंटरनेट कनेक्शन, सोलर प्लेट का अधिष्ठापन निश्चित रुप से किया जाना है। पूरे राज्य में सभी निर्मित पंचायत सरकार भवन के संबंध में सुविधाओं की विस्तृत जानकारी प्राप्त कर लिये जानेे की बात प्रधान सचिव महोदय ने बताई।
जिला परिषद् के डी.पी.आर.सी के भवन का निर्माण कार्य अविलम्ब प्रारंभ करवाने हेतु प्रक्रिया तेज करने का निदेष दिया गया। जिला परिषद् के द्वारा वित्तीय वर्ष 2022-23 में कुल 41,94,100 रुपया का राजस्व प्राप्ति हाट बाजार, टैक्सी स्टैंड, दुकान एवं भवन से होने की जानकारी दी गयी। शहरी क्षेत्र में सभी यात्रियों के लिए सभी सुविधा से पूर्ण बड़ा बस स्टैंड बनाने हेतु प्रस्ताव देने का भी निर्देश दिया गया।

पंचायतों के सभी योजनाओं के रिकार्ड के रख-रखाव से संबंधित भी महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश प्रधान सचिव महोदय के द्वारा दिया गया। बैठक के उपरांत प्रधान सचिव महोदय के द्वारा जिला पंचायती राज पदाधिकारी का कार्यालय का भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के क्रम में जिला पंचायती राज कार्यालय के सभी कर्मियों के द्वारा किये जाने वाले कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी ली गयी एवं उसमें सुधार हेतु आवश्यक निर्देश प्रधान सचिव महोदय के द्वारा दिया गया। प्रधान सचिव महोदय के द्वारा पंचायती राज के जन-प्रतिनिधिगणों से भी मिलकर उनसे कार्यो के संबंध मे फीडबैक लिया गया।

बैठक में उप विकास आयुक्त श्री अमित कुमार, अपर समाहर्त्ता डॉ गगन, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, जिला जन-सम्पर्क पदाधिकारी, जिला स्तरीय पदाधिकारीगण, अभियंतागण, प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

Previous articleपुलिस उपाधीक्षक के नेतृत्व में टीम गठन कर ‘‘विशेष समकालीन अभियान’’ का अयोजन
Next articleखूंटी में टंगी महिला पुलिसकर्मी की वर्दी में घुसकर बैठा नाग, देखकर पुलिसवालों के छुटे पसीने

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here