कटिहार, 14 जुलाई: कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए जिलेवासियों को लगाए जा रहे टीके के लिए लोग बहुत ज़्यादा उत्साहित हैं। 12 से 14 आयु वर्ग एवं 15 से 18 आयु वर्ग के किशोर एवं किशोरियों को पहला एवं दूसरा डोज़ सहित 18 से अधिक उम्र के लोगों के लिए बूस्टर डोज़ देने के उद्देश्य से स्वास्थ्य विभाग द्वारा टीकाकरण महाअभियान चलाया जा रहा है। राज्य स्वास्थ्य समिति की ओर से बिहार के सभी जिलों में लक्ष्य को शत प्रतिशत पूरा करने के लिए अलग-अलग वरीय अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई हैं। जिसमें कटिहार के लिए पूर्णिया प्रमंडल के प्रभारी क्षेत्रीय अपर स्वास्थ्य निदेशक डॉ एसके वर्मा को प्रतिनियुक्त किया गया है।

टीकाकरण की सफ़लता के लिए वरीय अधिकारियों को सौंपी गई हैं जिम्मेदारी: सिविल सर्जन
सिविल सर्जन डॉ डीएन पाण्डेय ने बताया कि राज्य सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देश के आलोक में बढ़ते कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर समय-समय पर टीकाकरण महाभियान चलाया जाता है। आज फिर से इस महाअभियान की शुरुआत की गई है। जिलाधिकारी उदयन मिश्रा द्वारा आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया हैकि टीकाकरण महाअभियान की शत प्रतिशत सफ़लता के लिए वरीय अधिकारियों की अलग-अलग प्रतिनियुक्ति की जाय। इसके आलोक में अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ कनक रंजन को कटिहार शहरी क्षेत्र, क़दवा, फ़लका, कुर्सेला एवं कोढ़ा प्रखण्ड का प्रभार सौंपा गया है। गैर संचारी रोग पदाधिकारी डॉ आरएन पंड़ित को बरारी, डंडखोड़ा, बलरामपुर, हसनगंज, बारसोई, मनसाही एवं प्राणपुर प्रखंड की जिम्मेदारी सौंपी गई है। वहीं ज़िला वैक्टर बॉर्न जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ जेपी सिंह को अमदाबाद, मनिहारी, आजमनगर, समेली एवं सदर प्रखण्ड कटिहार की जिम्मेदारी दी गई हैं।

सभी स्वास्थ्य केंद्रों को अधिक से अधिक टीकाकरण का दिया गया है लक्ष्य: डीआईओ
ज़िला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ एनके झा ने बताया कि 15 से 17 आयु वर्ग के सभी किशोर एवं किशोरियों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए कोवैक्सीन का टीका लगाया जा रहा है। इसके दोनों डोज टीकाकरण के बीच सिर्फ 28 दिन का अंतर रखा गया है। जबकिं 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लाभार्थियों को कोवैक्सीन के अलावा कोवीशील्ड का टीका दिया जा रहा है। इसका दूसरा डोज 84 दिन के अंतराल पर लगाया जाता है। सिर्फ 28 दिन पर दूसरा डोज समय होने पर 15 से 17 आयु वर्ग के लाभार्थी समय पर टीका लगाने पहुंच रहे हैं। बच्चों के परिजन भी इसे लेकर बहुत ज्यादा उत्साहित दिख रहे हैं। जिले के सभी स्वास्थ्य केंद्रों के जिम्मे अधिक से अधिक टीकाकरण कराने का लक्ष्य दिया गया है। इसके लिए स्वास्थ्य केंद्र, टीकाकरण सत्र स्थल एवं ज़िले के विभिन्न स्कूलों में भी टीकाकरण केंद्र स्थल बनाए गए हैं। ताकि अधिक से अधिक टीकाकरण हो सकें।

Previous articleकोविड-19 संक्रमण के खिलाफ लड़ाई के लिए व्यापक पैमाने पर चलाया गया टीकाकरण महाअभियान
Next articleबर्थडे पार्टी में केक और मिठाई खाने से 60 से 70 लोग बीमार,पानापुर थानाक्षेत्र के सलेमपुर गांव की है घटना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here