सारण, छपरा 05: मकेर प्रखंड की फुलवरिया पंचायत के भाथा नोनिया टोली ग्राम में 040अगस्त को संदिग्ध परिस्थिति में कुछ व्यक्तियों की मृत्यु एवं बीमार होने की घटना के संबंध में विस्तार से जानकारी देने हेतु आज दिनांक 05 अगस्त 2022 को जिला पदाधिकारी सारण श्री राजेश मीणा एवं पुलिस अधीक्षक सारण श्री संतोष कुमार के द्वारा संयुक्त रुप से संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया गया। जिला पदाधिकारी महोदय के द्वारा दुखद घटना के संबंध में जानकारी देते हुए बताया गया कि अबतक दस व्यक्तियों के ज्ञात सूत्रों से एवं एक व्यक्ति के अज्ञात सूत्र से मृत् हो जाने की सूचना प्राप्त है। इनमें से नौ व्यक्तियों की मृत्यु पी.एम.सी.एच. पटना में इलाज के दौरान हो गयी। एक व्यक्ति की मृत्यु निजी अस्पताल में इलाज के क्रम में हुई है। पी.एम.सी.एच. पटना में वर्तमान में छः व्यक्तियों का एवं सदर अस्पताल छपरा में बारह बीमार व्यक्तियों का इलाज चल रहा है। जिला पदाधिकारी ने मीडियाकर्मियों से भी अपील करते हुए कहा कि शराब सेवन के विरुद्ध वातावरण निर्माण मे वे भी सकारात्मक भूमिका का निवर्हन करें।

दिये गये प्रशासनिक निर्देशों के बारे में जानकारी देते हुए बताया गया कि प्रभावित क्षेत्रों में सर्वप्रथम घर-घर सर्वे कर लोगों से बीमार व्यक्तियों के संबंध में जानकारी एकत्रित की जा रही है ताकि बीमार व्यक्तियों का समूचित उपचार करवाया जा सके। विशेष सर्वे दल में मेडिकल टीम के साथ जीविका की दीदीयॉ, कल्याण एवं आई.सी.डी.एस. विभाग के पदाधिकारीगणों एवं कर्मियों की भी सहायता ली जा रही है। प्रभावित क्षेत्रों के गाँवों में अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के साथ ए.एल.टी.एफ. टीम एवं प्रशासनिक पदाधिकारी, उत्पाद विभाग की टीम अन्य पुलिस पदाधिकारियों के द्वारा संयुक्त रुप से अग्रत्तर कार्रवाई के तहत लगातार छापामारी की जा रही है ताकि इस घटना के दोषी व्यक्तियों को पकड़कर उनपर कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित की जा सके।

पुलिस अधीक्षक महोदय के द्वारा बताया गया कि इस घटना के संबंध में कांड दर्ज कर गिरफ्तारी की कार्रवाई की जा रही है। अबतक पाँच गिरफ्तारी एवं 1451 लीटर अवैध शराब बरामद किये जाने की जानकारी दी गयी। इस संबंध में आसूचना तंत्र के निष्फल होने के आरोप में स्थानीय चौकीदार एवं थाना प्र्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर उनपर विभागीय कार्रवाई प्रारंभ कर दी गयी है। पुलिस अधीक्षक महोदय के द्वारा बताया गया कि पिछले कई महीनों से उत्पाद विभाग एवं पुलिस की संयुक्त छापामारी पूरे जिले में अभियान के तहत की जा रही है। गिरफ्तारी एवं शराब के जब्ती के मामले में सारण जिला के पूरे राज्य में अव्वल होने की जानकारी दी गयी। शराब कानून को कठोरता से जिला में लागू करवाया गया है। इस तरह की घटनाओं पर प्रभावी ढंग से रोक लगाने हेतु सामाजिक चेतना की आवश्यकता है। शराब सेवन के विरुद्ध लगातार जन-जागरुकता अभियान के साथ वातावरण निर्माण किये जाने की आवश्यकता पर बल दिया गया।

Previous articleछपरा जहरीली शराबकांड मे मौत का आंकड़ा हुआ 13, थानेदार समेत चौकीदार सस्पेंड
Next articleक्षेत्र की प्रमुख सड़कों के उन्नयन को लेकर डिप्टी सीएम से मिले छपरा विधायक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here