Mumkin hai India

  • Gallery

    किशनगंज: प्राथमिकता के आधार पर वृद्ध खासकर गंभीर रोगों से ग्रस्त महिलाओं का चला टीकाकरण अभियान

    2021-03-09

    टीका का कोई साइड इफेक्ट महसूस नहीं हुआ: कोरोना की गाइडलाइन का करें पालन, जिले में एक भी कोरोना पीड़ित मरीज नहीं:- किशनगंज, 09 मार्च| जिले में कोविड-19 वैक्सीनेशन के तीसरे चरण के टीकाकरण को लेकर स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से मुस्तैद है| इसके लिए विशेष अभियान के तहत कुल 20 सत्र स्थल स्थापित हैं। सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया कि कोरोना काल से उबरने के लिए यह टीका बहुत ही कारगर साबित हो रहा है| सदर अस्पताल सहित जिले के सभी टीकाकरण केंद्रों पर जिन बुजुर्गो ने भी वैक्सीन लगवाई है, वे सभी बधाई के पात्र हैं। टीका का कोई साइड इफेक्ट महसूस नहीं हुआ: जिले में विशेष टीकाकरण अभियान के तहत शहर के डुमरिया भट्टा निवासी आशा देवी ने कोरोना का टीका लेने के बाद बताया कि बिना किसी झिझक के टीका लेने के लिये घर से निकले और टीकाकरण के बाद लगभग आधा घंटे तक केंद्र पर ही रुके रहे। उसके बाद वापस अपने घर पर निर्भीक होकर काम भी किये । अभी तक हमलोगों को किसी भी तरह से कोई परेशानी नहीं हुई और ना ही किसी तरह का कोई डर है। कोरोना का टीका पूरी तरह सुरक्षित तो है ही साथ ही टीका पर पूरा भरोसा भी है। टीका हर किसी को लेना चाहिए, टीका लेने के बाद वह पूर्व की तरह ही स्वस्थ महसूस कर रहे हैं। किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं है एवं टीका लेने के बाद अपने कार्यो में पूरी तरह से लग गए हैं। दूसरे लोगों से अपील करते हुए कहा कि जिन्होंने टीका नहीं लिया है वह अपने नज़दीकी के टीकाकरण केंद्र पर जाकर टीकाकरण करा लें। टीकाकरण के बाद भी कोरोना की गाइडलाइन का करें पालन: सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया कि अभी भी कोरोना संक्रमण की संभावना बरकरार है। इसलिए लोगो को किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। संक्रमण से बचाव के लिए कोरोना प्रोटोकॉल का अनुपालन ज़रूरी है। साथ ही टीका लेना जरूरी है। टीकाकरण को लेकर तरह तरह की गलत धारणा फैली हुई है। इस पर ध्यान नहीं देना चाहिए। कहा टीका पूरी तरह सुरक्षित है। टीकाकेन्द्रों पर संचालित टीकाकरण अभियान में लोगों को किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ा। इसलिए कोरोना को दूर भगाने के लिए वैक्सीन लेनी चाहिए, ताकि संक्रमण को टाला जा सके। दरअसल, कोरोना से बचने के लिए हमलोग मास्क लगाते हैं| सामाजिक दूरी का पालन करते हैं और भीड़भाड़ से बचते हैं| ऐसा करने से न सिर्फ कोरोना से बचाव होता है, बल्कि सांस से संबंधित बीमारी समेत अन्य कई दूसरी बीमारियों से भी बचाव होगा| इसलिए टीका लेने वाले लोग कोरोना की गाइडलाइन का पालन करेंगे तो बेहतर रहेगा| जिन लोगों ने अभी तक टीका नहीं लिया है, वे लोग तो निश्चित तौर पर कोरोना की गाइडलाइन का पालन करें| लक्षित लाभार्थी टीकाकरण की सेवा प्राप्त करने के लिए स्वयं ऑनलाइन निबंधन कर सकते हैं अथवा चिन्हित स्वास्थ्य संस्थानों में ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन कर कोविड-19 टीकाकरण की सेवा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन के लिए लाभार्थी के पास मोबाइल नंबर एवं सरकार द्वारा अनुमान्य पहचान पत्र होना अनिवार्य है। टीकाकरण की सेवा प्राप्त करने के लिए लाभार्थियों द्वारा आधार कार्ड प्रस्तुत किया जाना अनिवार्य है। यदि लाभार्थी द्वारा ऑनलाइन पंजीकरण किया जाता है तो उनके मोबाइल नंबर पर ओटीपी जाएगा। जिसके प्रविष्टि के उपरांत कोविन 2.0 पोर्टल पर सफलतापूर्वक पंजीकरण हो पाएगा। पंजीकरण के बाद पोर्टल पर लाभार्थी अपने निकटतम कोविड-19 टीकाकरण केंद्र का चयन कर सकते हैं। साथ ही साथ उपलब्ध स्लॉट में से अपने लिए टीकाकरण की तिथि भी निर्धारित कर सकते हैं। इन तरीकों से करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन: • कोविन पोर्टल https://selfregistration.cowin.gov.in • ऑनसाइट पंजीकरण • आरोग्य सेतु एप - जिले में एक भी कोरोना पीड़ित मरीज नहीं:- सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया कि जिले में कुल 337899 लोगों की कोरोना जांच की गयी जिसमें 4399 लोग पॉजिटिव पाए गये| इसमें 4383 लोग स्वस्थ हो चुके है तथा कुल 16 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है| वर्तमान में जिले में कोई भी कोरोना पीड़ित मरीज नहीं है | वही जिले स्वास्थ्यकर्मियों के 8134 के लक्ष्य के विरुद्ध 6648 का टीकाकरण एवं 7810 लक्ष्य के विरुद्ध में 6066, फ्रंटलाइन वर्करों एवं स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरे डोज में 6648 के लक्ष्य के विरुद्ध 3346 तथा 45 से 59 वर्ष के 459 बीमार लोगों का टीकाकरण एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के 2557 नागरिकों का टीकाकरण किया गया है । अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष अभियान चलाकर 60 वर्ष से अधिक तथा 45 से 59 वर्ष के 39 बीमार लोगों का किया गया टीकाकरण सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष अभियान चलाकर 60 वर्ष से अधिक तथा 45 से 59 वर्ष के 3276 बीमार लोगों का टीकाकरण 20 स्थलों पर किया गया । ।45 से 59 वर्ष के 290 बीमार लोगों का टीकाकरण एवं 60 वर्ष से अधिक आयु की 1399 महिलाओं का टीकाकरण किया गया | वहीं 45 से 59 वर्ष के 144 बीमार लोगों का टीकाकरण एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के 771 पुरुषों का टीकाकरण 08 मार्च को जिले के सभी 20 स्थलों पर किया गया है। जिसमे कोचाधामन , पोठिया , एवं ठाकुरगंज प्रखंड में 400 लक्ष्य के विरुद्ध 600 से अधिक का टीकाकरण किया गया है| जिले में कुल लक्ष्य 2800 के विरुद्ध 3276 लोगों का टीकाकरण किया गया है| उन्होंने सभी स्वस्थ्कर्मियों को बेहतर कार्य के लिए धन्यवाद दिया है | टीकाकरण केंद्र में वेटिंग रूम, रजिस्ट्रेशन रूम, वैक्सीनेशन रूम व ऑब्ज़र्वेशन रूम भी बनाया गया है। टीकाकरण के बाद सभी को आधे घंटे के लिए ऑब्ज़र्वेशन रूम में रखा जा रहा ताकि कोई परेशानी हो तो इसका उपचार स्थानीय स्तर पर जल्द से जल्द किया जा सके।