Mumkin hai India

  • Gallery

    पुर्णिया: कोरोना संक्रमण का मामला नहीं के बराबर लेकिन सुरक्षा हैं जरूरी- अपर निदेशक

    2021-03-12

    -स्वास्थ्य विभाग के नवनियुक्त अपर निदेशक ने पदग्रहण करने के बाद कहा -प्रमंडल को राज्य में पहले पायदान पर लाना पहली प्राथमिकता -आपसी समन्वय स्थापित कर हर तरह की समस्याओं का निकाला जा सकता हैं समाधान - -विभागीय बैठक करने के बाद सभी तरह के कार्यक्रमों को किया जाएगा मजबूत पूर्णिया, 12 मार्च| स्वास्थ्य विभाग के क्षेत्रीय अपर निदेशक डॉ वीर कुंवर सिंह ने पदग्रहण करने के बाद कहा कि प्रमंडल के सभी चारों जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं को पहले से बेहतर करना मेरी पहली प्राथमिकता है | कहा कि शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले सभी निवासियों तक बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी सरकार ने हमलोगों को दी है। इसके पूर्व उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के निवर्तमान क्षेत्रीय उप निदेशक डॉ उदय नाथ लाल दास से पदभार ग्रहण किया| सभी अधिकारियों ने उन्हें बधाई दी। उन्होंने सभी अधिकारियों, कर्मचारियों व मीडिया कर्मियों से परिचय कर एक दूसरे को सहयोग करने की बात कही। इस अवसर पर जिला गैर संचारी रोग पदाधिकारी डॉ विष्णु प्रसाद अग्रवाल, सदर अस्पताल के अधीक्षक डॉ सुरेंद्र दास, क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक नजमुलहोदा, क्षेत्रीय लेखा प्रबंधक महमद आरिफ़, एसीएमओ कार्यालय के प्रधान सहायक दीपक कुमार, यूनिसेफ़ के प्रमंडलीय सलाहकार शिव शेखर आनंद, सीफार के प्रमंडलीय समन्वयक धर्मेंद्र कुमार रस्तोगी सहित कई अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे। आपसी समन्वय स्थापित कर हर तरह की समस्याओं का निकाला जा सकता हैं समाधान: अपर निदेशक पूर्णिया के नवनियुक्त अपर निदेशक डॉ वीर कुंवर सिंह ने अपनी प्राथमिकताओं के संबंध में बताया कि प्रमंडल के सभी जिला मुख्यालयों के सदर अस्पताल, रेफ़रल अस्पताल, अनुमंडलीय स्तर के अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सहित हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को बेहतर कर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की जरूरत है । इसके लिए हर तरह की चिकित्सा सेवा बहाल करना, आवश्यकता अनुसार चिकित्सकों की पदस्थापना के साथ ही एएनएम व अन्य कर्मचारियों की प्रतिनियुक्ति की जा सकती है। अपर निदेशक व क्षेत्रीय कार्यक्रम इकाई कार्यालय के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों से मिलने के बाद कहा कि आपसी समन्वय स्थापित करने मात्र से हर तरह की समस्या का समाधान निकाला जा सकता है लेकिन किसी कार्य को करने के लिए दृढ़ इच्छाशक्ति होनी चाहिए। कोरोना संक्रमण का मामला नहीं के बराबर लेकिन सुरक्षा है जरूरी: आरएडी वैश्विक महामारी कोविड-19 को लेकर सभी जिलों में टीकाकरण कार्य शांति पूर्व माहौल में चल रहा हैं। इसके साथ ही सभी अस्पतालों में कोरोना संक्रमण की जांच प्रक्रिया भी चल रही है| हालांकि वर्तमान समय में कोरोना संक्रमण का मामला सामने नहीं आ रहा है लेकिन हमलोगों को अभी भी मास्क का प्रयोग , सामाजिक दूरी व अपने हाथों में सैनिटाइजर का प्रयोग हर आधा घण्टा पर करते रहना चाहिए क्योंकि अपनी सुरक्षा का खयाल खुद ही करना है । विभागीय बैठक के बाद सभी तरह के कार्यक्रमों को किया जाएगा मजबूत: परिवार नियोजन कार्यक्रम के संबंध में विस्तृत रूप से समीक्षा बैठक करने के बाद कार्यक्रम की शत प्रतिशत सफ़लता के लिए रूप रेखा तैयार करना, लक्ष्य प्रमाणीकरण के लिए सभी तरह के स्वास्थ्य केंद्रों में संस्थागत व सुरक्षित प्रसव के लिए प्रसव कक्ष व शाल्य कक्ष का सुदृढ़ीकरण करना, शहरी स्वास्थ्य केंद्रों के अलावा ग्रामीण स्तर पर हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर से जुड़ी हुई हर तरह की समस्याओं का निराकरण बेहतर से करना सहित स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़ी हुई सभी तरह के कार्यक्रमों के बारे में विभागीय बैठक कर विस्तृत रूप से चर्चा करने के बाद उसे मूर्त रूप देना होगा| ताकि हमलोग पूर्णिया प्रमंडल को स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में राज्य में पहले पायदान पर ला सकें । मालूम हो कि पूर्णिया प्रमंडल के नवनियुक्त स्वास्थ्य विभाग के अपर निदेशक के पद पर पदग्रहण से पहले शेखपुरा ज़िले के सिविल सर्जन के पद पर कार्यरत थे जबकि निवर्तमान उप निदेशक अपनी सेवाएं इसी प्रमंडल में देते रहेंगे।