Mumkin hai India

  • Gallery

    किशनगंज: सभी स्वास्थ्य संस्थानों में युद्ध स्तर पर चल रहा हैं कोविड-19 टीकाकरण अभियान

    2021-03-10

    12 मार्च को जनप्रतिनिधि के सहयोग से होगा टीकाकरण, विभागीय कवायद शुरू विशेष अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर टीकाकरण के लिए जिले को सूबे में मिला 12 वां रैंक 189827 लोगों के लक्ष्य के विरुद्ध 4358 लोगों का हुआ टीकाकरण किशनगंज /10 मार्च। जिले में कोविड-19 संक्रमण वायरस को जड़ से खत्म करने के लिए सभी पीएचसी, सीएचसी, अनुमंडलीय व रेफरल एवं जिला अस्पताल समेत स्वास्थ्य विभाग द्वारा चयनित अन्य स्वास्थ्य संस्थानों में संचालित वैक्सीनेशन सेंटरों पर युद्ध स्तर पर वैक्सीनेशन अभियान चल रहा है। इसे गति देने में स्वास्थ्य विभाग भी पूरी कटिबद्ध है। निर्धारित समय पर टीकाकरण लक्ष्य को पूरा करने की हर संभव कोशिश की जा रही है। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग ने सारी तैयारियाँ पूरी कर ली। साथ ही वैक्सीनेशन की गति देने में स्वास्थ्य विभाग हर आवश्यक पहल कर रही है। मंगलवार को जिले में कुल 1656 लोगों को कोरोना के टीके पड़े। सबसे खास बात यह रही कि सदर अस्पताल केंद्र पर बीमारों, बुजुर्गों, फ्रंटलाइन वर्कर और स्वास्थ्यकर्मियों के अलावा लाभुकों को कोरोना टीका का बूस्टर डोज भी दिया गया। खासकर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया आसान हो जाने से बड़ी संख्या में लोग टीका लगवाने के लिए पहुंच रहे हैं। सदर अस्पताल में सिर्फ आधार कार्ड लेकर आने वाले लाभुकों को भी कोरोना का टीका दिया जा रहा है। ऐसे लाभुकों का तत्काल रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। साथ ही जो लोग खुद से रजिस्ट्रेशन कर कर आ रहे हैं उनका भी टीकाकरण हो रहा है। 12 मार्च को जनप्रतिनिधि के सहयोग से होगा टीकाकरण: जिला प्रतिक्षण पदाधिकारी डॉ रफत हुसैन ने बताया 12 मार्च से जिले में जनप्रतिनिधि के सहयोग से टीकाकरण किया जाएगा। इसके लिए विभागीय ने तैयारी शुरू कर है। वर्तमान में जिले में 20 सत्र स्थलों पर टीकाकरण किया जा है जिमें न सभी पीएचसी एवं सदर अस्पताल सहित मेडिकल कॉलेज शामिल हैं। अब जिले में सत्र स्थल बढ़ाने की कवायद की जा रही जिसमें हेल्थ एंड वेलनेस सेंट एवं, एपीएचसी में भी टीकाकरण की योजना है। उन्होंने बताया स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविड-19 की जांच प्रतिदिन की जा रही हैं। इसके साथ ही 16 जनवरी से टीकाकरण कार्य भी शुरू कर दिया गया हैं। पहले चरण में स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों का टीका दिया गया था। लेकिन अब जिले के सभी आम नागरिकों का टीका लगाया जा रहा है। कोरोना वैक्सीन से वंचित कर्मियों को भी दिया जा रहा है वैक्सीन :- जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ रफत हुसैन ने बताया पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों एवं दूसरे चरण में फ्रंटलाइन वर्करों का वैक्सीनेशन किया जाना था। किन्तु, किसी कारण वश जो भी कर्मी उस दौरान वैक्सीन नहीं ले सकें, उन कर्मियों को भी वैक्सीन दिया जा रहा है। ताकि एक भी लोग वैक्सीन लेने से वंचित नहीं रह जाय। क्योंकि, इस वैश्विक महामारी के संक्रमण का तभी जड़ से खात्मा होगा, जब शत-प्रतिशत लोगों का वैक्सीनेशन हो जाएगा। इसके अलावा पहला डोज लेने वाले लाभार्थी को भी 28 दिन पूरा करने पर वैक्सीन का दूसरा डोज दिया जा रहा है। दरअसल, कोविड-19 संक्रमण वायरस से स्थाई निजात के लिए वैक्सीन की पूरी डोज जरूरी है। टीकाकरण अभियान गति तेज, निर्धारित समय पर लक्ष्य पूरा होगा: जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ रफत हुसैन ने बताया जिले में पूरे जोर-शोर के साथ तीसरे चरण का भी वैक्सीनेशन अभियान चल रहा है। इसे गति देने के लिए हर आवश्यक तैयारियाँ पूरी कर ली गई है। हर हाल में निर्धारित समय पर लक्ष्य पूरा होगा। इसे सुनिश्चित करने को लेकर जिले के सभी पीएचसी प्रभारी को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। इसको लेकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। इस संबंध में सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर कर्मियों को टीकाकरण का लाभ बताने की जिम्मेदारी दी गई है। खासकर बुजुर्ग एवं बीमार व्यक्तियों को शत्र स्थानों पर लाकर टीकाकरण कराने को कहा गया है। इसमें आशा कार्यकर्ता एवं आंगनवाड़ी को लगाया गया है ताकि अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन दी जा सके। डीआईओ ने आम लोगों से टीकाकरण अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने की अपील की है। उन्होंने कहा लोगों को कोरोना से रक्षा के लिए टीका अवश्य लेनी चाहिए ताकि हम कोरोना वायरस से मुक्ति पा सकें। 45 से 59 वर्ष के बीमार एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के 4358 लोगों का हुआ टीकाकरण: सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया जिले में कुल 3.37 लाख लोगो की कोरोना जांच की गयी, जिसमें 4399 लोगो पॉजिटिव पाए गये। अभी तक जिले में 4383 लोग कोरोना से स्वस्थ हो चुके है तथा कुल 16 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। वर्तमान में जिले में कोई भी कोरोना पीड़ित मरीज नहीं है। वही जिले के स्वास्थ्यकर्मियों के 8134 के लक्ष्य के विरुद्ध 6722 स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण हुआ है। जबकि 7896 फ्रंटलाइन वर्करों को टीकाकृत करने के लक्ष्य के विरुद्ध में 6205 को टीके लगे हैं। वहीं स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरे डोज में 6722 के लक्ष्य के विरुद्ध 3670 तथा फ्रंटलाइन वर्करों को दूसरे डोज में 6205 के लक्ष्य के विरुद्ध 32 को टीके लगाए गए हैं।बजिले में 45 से 59 वर्ष के बीमार एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के कुल चिन्हित 189827, व्यक्तियों के लक्ष्य के विरुद्ध 4358 लोगों का हुआ टीकाकरण है जिसमें 45 से 59 वर्ष के 1305 बीमार लोगों का एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के 3449 लोगों का टीकाकरण का किया गया है। सभी स्वस्थ्कर्मियो काफी लगन और मेहनत से कार्य कर रहे ताकि जिला संक्रमण से मुक्ति हो सके। टीकाकरण केंद्र में वेटिंग रूम, रजिस्ट्रेशन रूम, वैक्सिनेशन रूम व ऑब्ज़र्वेशन रूम भी बनाया गया है। टीकाकरण के बाद सभी को आधे घंटे के लिए ऑब्ज़र्वेशन रूम में रखा जा रहा हैं ताकि कोई परेशानी हो तो इसका उपचार स्थानीय स्तर पर जल्द से जल्द किया जा सके।