Mumkin hai India

  • Gallery

    किशनगंज: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर प्राथमिकता के आधार पर जिले भर में चला महिलाओं का टीकाकरण अ

    2021-03-08

    सदर अस्पताल परिसर स्थित टीकाकरण केंद्र का जिला पदाधिकारी , सीएस व नगर परिषद् उपाध्यक्ष ने किया उद्घाटन -कोरोना काल में उत्कृष्ट कार्य, कौशल और योग्यता के लिए महिला दिवस पर स्वास्थ्य कर्मी पुरस्कृत हुई किशनगंज, 08 मार्च। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं के विशेष रूप से टीकाकरण कराने को लेकर सदर अस्पताल स्थित टीकाकरण केंद्र पर टीकाकरण अभियान का उद्घाटन जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश, सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन, नगर परिषद् किशनगंज की उपाध्यक्ष श्रीमती आंची देवी जैन ने संयुक्त रूप से किया। जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने बताया कि आधी आबादी यानि महिलाओं को सम्मान देने के उद्देश्य महिला दिवस पर सोमवार को विशेष रूप से महिलाओं के लिए विशेष कोरोना टीकाकरण अभियान चलाया गया। बताया कि जिले के विभिन्न सेशन साइट पर महिलाओं ने ही अपने हाथों से फीता काटकर टीकाकरण अभियान का उद्घाटन किया। विशेष टीकाकरण अभियान में गम्भीर बीमारी जैसे हार्ट डिजीज, कैंसर, डायबिटीज, ब्रेस्ट कैंसर सहित अन्य बीमारियों से ग्रसित 45 वर्ष से अधिक उम्र की सभी महिलाओं को कोरोना का टीका लगाया गया। इसके साथ ही 59 वर्ष से अधिक उम्र की सभी महिलाओं को भी कोरोना की वैक्सीन लगाई गई। सभी टीकाकरण केन्द्रों पर महिलाओं का विशेष ख्याल रखा जाता है लेकिन आज का दिन महिलाओं के लिए खास बनाया गया। सोमवार को सिर्फ और सिर्फ महिलाओं को ही कोरोना का टीका लगाया जाना था, बावजूद इसके अन्य ब्यक्ति भी जो कोरोना टीका का पहला या दूसरा डोज लेने के लिए आये थे उन्हें भी निराश नहीं किया बल्कि उसे भी कोरोना की वैक्सीन लगाई गई। इस मौके पर जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ रफत हुसैन, जिला स्वास्थ्य समिति के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ मुनाजिम, सदर अस्पताल उपाधीक्षक डॉ अनवर आलम,सिफार के जिला प्रतिनिधि सहित कई अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे। महिला दिवस पर कोरोना के खिलाफ आधी आबादी का विश्वास पड़ा भारी सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर जिले के सभी 20 केंद्रों और अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहित सदर अस्पताल को भी दुल्हन की तरह सजाया गया। इसके साथ ही टीकाकरण केंद्र पर आने वाली सभी महिलाओं को टीका देने से पहले स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों के द्वारा जांच करने के बाद ही उनको टीका लगाया जा रहा था। फिर उनलोगों को अलग बैठने की व्यवस्था भी की गई। जहां पर आधे घंटे तक आराम करने के बाद वापस जाने के लिए बोला जा रहा था। सबसे ज़्यादा ख़ुशी की बात यह हैं कि अब ज़िले में कोरोना का संक्रमण नहीं के बराबर है। क्योंकि स्वास्थ्य विभाग के द्वारा कोविड-19 की जांच प्रतिदिन की जा रही है। 16 जनवरी से टीकाकरण कार्य भी शुरू कर दिया गया है। पहले चरण में स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों का टीका दिया गया था लेकिन अब जिले के सभी आम नागरिकों का टीका लगाया जा रहा। महिलाओं की उमड़ती भीड़ और योगदान ने टीकाकरण की सफलता में उनकी महती भागीदारी दिखाई है। जिले के प्रत्येक प्रखंड से 400 महिला जो 60 वर्ष से अधिक उम्र और 45 से 59 वर्ष की गंभीर बीमारियों से ग्रसित महिलाओं का टीकाकरण करने का लक्ष्य दिया गया है। जिसमें आज कुल 1800 लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया है। आंगनबाड़ी एवं आशा कर्मियों में दिखा उत्साह जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ रफत हुसैन ने बताया कि इस विशेष महिलाओं के लिए विशेष टीकाकरण सत्रों पर आंगनबाड़ी एवं आशा कार्यकर्ताओं के बीच काफी उत्साह देखा गया। विभाग की तरफ से भी उनसे अपील की गयी थी कि जिनका भी सेकेंड डोज का टीका छूटा हुआ है वह महिला दिवस के दिन आकर टीका ले सकती हैं। टीकाकरण के प्रति उन्हें प्रथम चरण से ही विश्वास था। बहुत सारी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने अपने आस-पास की महिलाओं को भी अपने साथ टीकाकरण कराया। आम लोगों ने भी लिया टीका जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ रफत हुसैन महिलाओं के साथ आम लोागों के लिए भी टीकाकरण चालू रहा। जिसमें लोागों ने खूब हिस्सा लिया। प्राइवेट अस्पतालों को छोड़ सभी टीकाकरण सत्रों पर ऑन स्पॉट रजिस्ट्रेशन की सुविधा थी। जहां पहचान पत्र लाकर टीका लिया जा सकता था। वहीं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन में स्थान और समय दोनों को चुनने की आजादी टीका लेने वाले व्यक्ति को थी। उत्कृष्ट कार्य के लिए महिलाओं को मिला सम्मान जिले में कोरोना काल में उत्कृष्ट काम करने वाली 10 महिला स्वास्थ्य कर्मियों को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सम्मानित किया गया। डॉ उर्मिला कुमारी, डॉ रिजवाना तबस्सुम, ग्रेड ए नर्स श्रीमती शिप्रा भट्टाचार्य, श्रीमती अल्ट्रा चकर्वती, एपिडेमोलोजिस्ट श्रीमती रीना प्रवीन, प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरक श्रीमती प्रतिमा कुमारी,महिला कक्ष सेविका श्रीमती छवि दास, श्रीमती लवली दास, आशा कार्यकर्त्ता श्रीमती शकुंतला देवी, श्रीमती धनोबाला देवी समेत 10 महिला कर्मियों को जिला पदाधिकारी के द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।