Mumkin hai India

  • Gallery

    जिलाधिकारी ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से की समीक्षात्मक बैठक

    2021-08-28

    सहरसा, 28 अगस्त: जिलाधिकारी कौशल कुमार द्वारा जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डा. कुमार विवेकानंद, जिला कार्यक्रम प्रबंधक विनय रंजन, जिला सामुदायिक उत्प्रेरक राहुल किशोर, जिला अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी कंचन कुमारी, यूएनडीपी के भीसीसीएम मो. मुमताज खालिद एवं केयर इंडिया के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में वीडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से जिले के सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों, प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधकों एवं प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरकों के साथ जिले में कोविड टीकाकरण एवं टेस्टिंग पर समीक्षात्मक बैठक की गई।

    सोमवार से 151 टीकाकरण सत्र स्थल अयोजित करने के दिये निर्देश:
    जिले में कोविड टीकाकारण एवं टेस्टिंग की अद्यतन स्थिति के बारें में आयोजित उक्त समीक्षात्मक बैठक में जिलाधिकारी कौशल कुमार ने कहा जिले में अब कोविड टीकाकरण सत्र स्थलों की संख्या बढ़ायी जानी है। इस क्रम में जिले में आने वाले सोमवार से 151 कोविड टीकाकरण सत्र आयोजित किये जायें एवं प्रत्येक सत्र स्थल पर कम से कम सौ लोगों को निश्चित तौर पर कोविड टीका लगाया जाय। इस प्रकार सोमवार से जिले में कम से कम 15100 कोविड टीका लगया जाने का लक्ष्य जिलाधिकारी द्वारा दिया गया।

    कम से कम 6000 दूसरा डोज लगाने के भी दिये निदेश:
    जिलाधिकारी द्वारा उक्त बैठक के माध्यम से जिले में प्रतिदिन कम से कम 6000 लोगों को कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज लगाने संबंधी निदेश भी जारी किये गये हैं। जिले में दूसरा डोज लेने वालों की संख्या बहुत कम है। इसके प्रति लोगों को जागरूक करते हुए उन्हें दूसरा डोज लगाना जरूरी है। ताकि जिले में कोरोना वायरस से पूर्ण रूप से प्रतिरक्षित लोगों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो सके।

    प्रखंड विकास पदाधिकारी लोगों को करेंगे जागरूक:
    इस लक्ष्य के प्राप्ति के लिए जिलाधिकारी द्वारा जिले के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को चुनाव कार्य के अतिरिक्त लोगों को कोविड टीकाकरण एवं टेस्टिंग के लिए प्रति जागरूक एवं मोबलाइज करने का काम करने संबंधी निदेश देते हुए कहा इस कार्य में उनका सहायोग प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक एवं प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरक भी करेंगे।

    पूर्व के लक्ष्यों के अनुरूप जारी रहेगा कोविड टेस्टिंग:
    जिलाधिकारी कौशल कुमार ने कहा जिले में कोविड टेस्टिंग का कार्य भी जारी है, ताकि लोगों को चिह्नित  करते हुए उनका समुचित इलाज करवाय जा सके। इसके लिए जिले में पूर्व से निर्धारित लक्ष्यों के अनुरूप कोविड टेस्टिंग का कार्य करने संबंधी निदेश भी जारी किये गये।