Mumkin hai India

  • Gallery

    मधेपुरा जिले में 4.73 लाख को वैक्सीन की पहली डोज, 17.5% को दूसरी डोज

    2021-08-27

    मधेपुरा, 27 अगस्त: कोविड-19 से संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण अभियान जारी है। कोविन पोर्टल के अनुसार जिले में अभी तक में 34.4 फीसद टीकाकरण हुआ है। गुरुवार तक लगभग 4.72 लाख लोगों को पहली डोज लग चुकी है। स्वास्थ्य विभाग दूसरे डोज की रफ्तार को बढ़ाने के लिए हर संभव कोशिश कर रहा है। जिले में अबतक 17.5 फीसद को ही दूसरा डोज लग पाया है। कई लोगों को दूसरे डोज लगवाने के मैसेज नहीं पहुंच रहे। जिससे उन्हें जानकारी नहीं मिल पा रही है। जबकि दूसरा डोज लगवाने पर ही टीकाकरण पूर्ण होगा और इम्युनिटी बढ़ाने के लिए भी दूसरा डोज आवश्यक होता है। ऐसे में दूसरे डोज के लक्ष्य पूरा करने लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा दूसरे डोज अभियान में और तेजी लायी जाएगी। दूसरे डोज से वंचित लोगों को चिह्नित कर डोज लगाया जाएगा। जिले में स्थापित कोविड कंट्रोल रूम से कॉल करके दूसरे डोज से वंचित लोगों को वैक्सीन लेने के लिए कहा जा रहा है। 

    शुक्रवार को 81 केंद्रों पर जारी रहा वैक्सीनेशन कार्य:
    शुक्रवार को जिले में 81 केन्द्रों में कोविशील्ड के प्रथम व सेकंड डोज दिनभर लगाए गए। शाम तक 4 हजार से ज्यादा लोगों को डोज लगाया गया। टीकाकरण अभियान की शुरुआत से जिले में शुक्रवार शाम तक लगाए गए कुल डोज की संख्या 5.55 लाख के पार पहुंच गई। 

    दूसरा डोज के लिए अलग से वैक्सीनेशन अभियान:
    जिले में दूसरे डोज के वैक्सीनेशन का काम तेजी से किया जा रहा है। खास बात यह है कि जिले में जिन लोगों को अब तक दूसरा डोज नहीं लगा है, उनके लिए अलग से वैक्सीनेशन अभियान चलाया जा रहा है। सिविल सर्जन डॉ. अमरेंद्र नारायण शाही ने बताया कि कोरोना टीकाकरण अभियान को तेज गति से चलाया जा रहा है। इसके तहत जिला से प्रखंड स्तर पर मेगा कैम्प का आयोजन किया जा रहा। जिससे शत-प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को पूरा किया जा सके। उन्होंने बताया कि अप्रैल-मई में जिन्होंने वैक्सीन की पहली डोज ली थी, उन लोगों को विशेष रूप से दूसरा डोज देने के लिए विशेष अभियान शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि जल्द ही जिले में शत प्रतिशत लोगों टीका लगाने का लक्ष्य प्राप्त कर लिया जाएगा। 

    दूसरा डोज जरूर लगवाएं:
    सिविल सर्जन डॉ. अमरेंद्र नारायण शाही ने कहा कि, कोरोना से बचाव के लिए पहली डोज के बाद दूसरी डोज भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि कोरोना से लड़ाई अभी समाप्त नहीं हुई है। आमजन ने वैक्सीनेशन के प्रति जिस जागरूकता का परिचय दिया है, वह दिख रहा है। उन्होंने आह्वान किया कि जिन लोगों ने वैक्सीन की प्रथम डोज लगवा ली है, वे दूसरी डोज के लिए भी वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचे।

    कोविड की तीसरी लहर से बचने लिए सतर्कता जरूरी:
    सिविल सर्जन ने कहा कि जिले में कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पा लिया गया है। लेकिन कोविड की तीसरी लहर से बचने लिए सतर्कता जरूरी है। हम सभी को पूरी तरह से चौकन्ना रहना होगा और सावधानी बरतनी होगी। किसी भी हालत में कोरोना संक्रमण को जिले में बढ़ने नहीं देना है। तीसरी लहर से बचने के लिए हर व्यक्ति कोविड अनुरूप व्यवहार करें तथा कोविड प्रोटोकॉल का शत-प्रतिशत पालन करें।