Mumkin hai India

  • Gallery

    शिक्षक दिवस से पूर्व सभी सरकारी व गैर सरकारी शिक्षकों का टीकाकरण सुनिश्चित कराने का होगा प्रयास

    2021-08-27

    अररिया, 27 अगस्त: कोरोना संक्रमण से निजात पाने के लिये 18 साल से अधिक आयु वर्ग के तमाम लोगों को दोनों डोज का टीकाकरण सुनिश्चित कराने का प्रयास किया जा रहा है। इसी क्रम में दूसरे डोज के टीकाकरण को बढ़ावा देने का प्रयास भी निरंतर जारी है। निर्धारित समय सीमा के बाद दूसरे डोज के टीकाकरण से वंचित लाभार्थी सहित सरकारी व गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों में कार्यरत शिक्षक व उनके परिजनों का शतप्रतिशत टीकाकरण निर्धारित समय सीमा के भीतर सुनिश्चित कराने को लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति ने जरूरी दिशा निर्देश जारी किये हैं। राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह द्वारा जिलाधिकारी, सिविल सर्जन व डीआईओ को जारी पत्र में 05 सितंबर शिक्षक दिवस से पूर्व तमाम शिक्षकों का टीकाकरण सुनिश्चित कराने का आदेश दिया गया है। इसके लिये वैक्सीन की  अतिरिक्त खुराक आवंटित किये जाने का उल्लेख पत्र में किया गया है। 


    शतप्रतिशत शिक्षकों के टीकाकरण के लिये संचालित होगा विशेष अभियान: 
    इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ मोईज ने बताया कि इससे पहले जून माह में भी शिक्षकों व उनके परिवार के सदस्यों के टीकाकरण को लेकर अभियान संचालित किया गया था। राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा जारी हालिया पत्र में 05 सितंबर शिक्षक दिवस तक सरकारी व गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों में कार्यरत तमाम वैसे शिक्षक जिन्होंने टीका का पहला डोज ले लिया उन्हें टीका का दूसरा डोज लगाने व अब तक टीकाकरण से वंचित लोगों को पहले डोज का टीकाकरण सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है। जारी निर्देश के मुताबिक जिले में विशेष टीकाकरण अभियान का संचालन किया जाना है। इसके लिये 28-29 अगस्त व 02 सितंबर को जिले को वैक्सीन की अतिरिक्त खुराक मुहैया करायी जायेगी । 


    विद्यालयों में दो चरणों में होगा टीकाशाला का आयोजन:
    शत प्रतिशत शिक्षकों के टीकाकरण को लेकर चिह्नित विद्यालयों में दो चरणों में टीकाशाला का आयोजन किया जायेगा। डीआईओ डॉ मोईज ने बताया कि पहले चरण में चयनित विद्यालयों में टीकाशाला का आयोजन करते हुए मिशन मोड में सभी निजी व सरकारी स्कूल के शिक्षक व उनके परिवार के सदस्यों का टीकाकरण किया जायेगा। वहीं दूसरे चरण में विद्यालय में अध्यनरत छात्र-छात्राओं के अभिभावक व उनके परिवार के सदस्य का टीकाकरण किया जाना है। इसके लिये इच्छुक छात्र व उनके अभिभावकों को सूचिबद्ध करते हुए एमओआईसी व बीईओ के आपसी समन्वय के आधार पर चयनित विद्यालयों में टीकाकरण सत्र का संचालन किया जायेगा। हर दिन प्रत्येक प्रखंड के तीन से चार विद्यालयों में टीकाकरण सत्र संचालित किये जायेंगे। तीन माह के अंदर पुन: उन्हीं विद्यालयों में सत्र आयोजित कर दूसरे डोज का टीकाकरण किया जायेगा। प्रति सत्र स्थल पर प्रतिदिन 300 लाभार्थियों के टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित होगा। विद्यालयों में आयोजित होने वाले टीकाकरण सत्र का क्षेत्र में व्यापक प्रचार प्रसार किया जायेगा।