Mumkin hai India

  • Gallery

    प्रखंडों में टीकाकरण के दूसरे डोज बढ़ाने के लिए मेगा ड्राइव चलाने का निर्देश

    2021-08-26

    पूर्णिया, 26 अगस्त: जिलाधिकारी राहुल कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में स्वास्थ्य विभाग की मासिक समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने कोविड-19 टीकाकरण के दूसरे डोज में तेजी लाने और कोविड-19 टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होंने सभी जानकारी को नियत समय पर पोर्टल में अपलोड करने का भी निर्देश सभी स्वास्थ्य अधिकारियों को दिया। बैठक में जिलाधिकारी के साथ उपविकास आयुक्त मनोज कुमार, सिविल सर्जन डॉ. एस के वर्मा, डीपीएम स्वास्थ्य ब्रजेश कुमार सिंह, डीआईओ विनय मोहन, एपिडेमियोलॉजिस्ट, डीएमएनई सहित अन्य स्वास्थ्य अधिकारी उपस्थित रहे।

    कोविड टीकाकरण में तेजी लाने का दिया गया निर्देश: जिलाधिकारी
    बैठक में जिलाधिकारी राहुल कुमार ने कहा कोविड-19 टीका की  दोनों डोज महत्वपूर्ण है लेकिन दूसरे डोज की संख्या में कमी है। जिले में 25 अगस्त तक कुल 11 लाख 54 हजार 257 लोगों का टीकाकरण हुआ है जिसमें से 09 लाख 31 हजार 58 लोगों को पहला डोज दिया गया है जबकि 02 लाख 23 हजार 199 लोगों ने ही दूसरा डोज लगाया है। जिलाधिकारी ने सभी प्रखंडों के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर दूसरे डोज के लिए अलग से साइट बनाने का निर्देश दिया है जहां केवल दूसरा डोज ही लगाया जाएगा। इससे दूसरे डोज के टीकाकरण में तेजी आएगी। इसके अलावा जिलाधिकारी ने टीकाकरण सम्बन्धी सभी आंकड़ों को नियत समय से पोर्टल पर अपलोड करने का भी निर्देश दिया है। जिले में टोटल 44.8% टीकाकरण हुआ है।इसमें अमौर में सबसे कम 26% टीकाकरण हुआ है। जिलाधिकारी ने अमौर चिकित्सा अधिकारी से इसके लिए स्पष्टीकरण की मांग की। पोर्टल पर भवानीपुर का 17 हजार 236, धमदाहा का 18 हजार 668, रुपौली का 16 हजार 053 तथा पूर्णिया पूर्व का 22 हजार 34 डेटा का गैप है। जिलाधिकारी ने इसे जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया है। उन्होंने सभी प्रखंड में जहां 10 हजार से अधिक अंतर है वहां टीकाकरण के दूसरे डोज बढ़ाने के लिए मेगा ड्राइव चलाने का निर्देश दिया है। 

    बढ़ायी जाएगी कोविड-19 टेस्टिंग की संख्या: 
    बैठक में जिलाधिकारी राहुल कुमार ने सभी स्वास्थ्य अधिकारियों को कोविड-19 टीकाकरण के साथ जांच की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया है। उन्होंने सभी बस स्टैंड तथा रेलवे स्टेशन पर बाहरी लोगों की कोविड-19 टेस्टिंग करने का निर्देश दिया है। सभी लोगों की एंटीजन टेस्टिंग करायी जाए और आवश्यकता अनुसार लोगों की आरटीपीसीआर टेस्टिंग करायी जाए। 25 अगस्त तक पांच प्रखंडों में एचआरएमएस शुरू नहीं हुआ है। इसे शुरू करने का निर्देश दिया गया है। इसे शुरू नहीं करने पर सम्बंधित अधिकारी का अगस्त माह का वेतन रोक दिया जाएगा। 

    संस्थागत प्रसव में वृद्धि का निर्देश: 
    समीक्षात्मक बैठक में जिलाधिकारी ने संस्थागत प्रसव की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने कहा कि रिपोर्ट के अनुसार जिले में पहले प्रतिमाह 8 हजार संस्थागत प्रसव होता था लेकिन अभी इसकी संख्या 4 हजार ही है। बैठक में इसकी भी संख्या में वृद्धि करने का निर्देश दिया गया है।