Mumkin hai India

  • Gallery

    कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज को बढ़ावा देने के लिये जिले में संचालित होगा विशेष अभियान

    2021-08-25

    अररिया, 25 अगस्त :जिले में कोरोना टीका की दूसरी डोज को बढ़ावा देने के लिये विशेष अभियान का संचालन किया जायेगा। जिले में कुल 18.53 लाख लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित है। इसमें 6.34 लाख लोगों को टीका की  पहली व 1.19 लाख लोगों को टीका की  दूसरी डोज दी गयी है। बहरहाल जिले में टीका की  पहले डोज के मामले में उपलब्धि लगभग 34 फीसदी है। वहीं दूसरे डोज की उपलब्धि महज 6.4 प्रतिशत है। पहले डोज की तुलना में दूसरे डोज की उपलब्धि का कमतर होना संक्रमण की  संभावित तीसरी लहर के खतरों को देखते हुए चिंताजनक माना जा रहा है। मामले को लेकर बुधवार को स्वास्थ्य विभाग के अपर कार्यपालक निदेशक की अध्यक्षता में वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये विशेष बैठक आयोजित की गयी। इसमें दूसरे डोज से संबंधित मामलों की समीक्षा करते हुए दूसरे डोज को बढ़ावा देने के लिये कई जरूरी सुझाव दिशा निर्देश स्वास्थ्य अधिकारियों को दिये गये। 


    दूसरे डोज के लिये 10 स्थानों पर हो रहा विशेष सत्र का संचालन : 


    दूसरे डोज को बढ़ावा देने के लिये स्वास्थ्य विभाग द्वारा कई जरूरी पहल किये जा रहे हैं। सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता के मुताबिक जिले के सभी नौ प्रखंडों के साथ सदर अस्पताल में दूसरे डोज के टीकाकरण के लिये विशेष टीकाकरण सत्र का संचालन किया जा रहा है। ड्यू लिस्ट के आधार पर दूसरे डोज से वंचित लोगों को कॉल सेंटर के माध्यम से टीकाकरण से संबंधित जानकारी दी जा रही है। हर दिन लगभग 2000 लोगों को कॉल किया जा रहा है। साथ ही आशा, आंगनबाड़ी सेविका, जीविका दीदी के माध्यम से भी वंचित लोगों को टीकाकरण के लिये प्रेरित व प्रोत्साहित किया जा रहा है। टीकाकरण के मामले में कमतर प्रखंडों के प्रदर्शन में सुधार के लिये जरूरी प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कोरोना से बचाव के लिये आम लोगों से प्राथमिकता के आधार पर टीका का संपूर्ण डोज लेने की अपील की। 

     

    दूसरे डोज के लिये संचालित होगा विशेष अभियान : 


    डीपीएम स्वास्थ्य रेहान अशरफ ने बताया कि दूसरे डोज को बढ़ावा देने के लिये अब हर सप्ताह पहले डोज के लिये संचालित अभियान की तर्ज पर विशेष अभियान का संचालन किया जायेगा। वैसे पंचायत जहां अब तक 80 फीसदी से अधिक टीकाकरण हो चुका है। अभियान के पहले चरण में इन पंचायतों को प्राथमिकता दी जायेगी। ताकि यहां शतप्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित कराया जा सके। विभिन्न प्रखंडों से ऐसे 50 से अधिक पंचायतों की सूची तैयार कर ली गयी है। उन्होंने बताया कि फिलहाल जिले में कोरोना के 04 एक्टिव मामले हैं। अगस्त महीने में अब तक 71653 लोगों की हुई जांच में 17 संक्रमित मरीज मिले हैं। जिला का पॉजिटिविटी रेट 0.02 फीसदी है। बावजूद इसके संक्रमण की तीसरे लहर की संभावना को नकारा नहीं जा सकता है। ये कब और किस रूप में सामने आता है। इसके बारे में फिलहाल कुछ कहा नहीं जा सकता है। लिहाजा स्वास्थ्य विभाग अपने स्तर से सभी तरह के जरूरी प्रयासों में जुटा है।