Mumkin hai India

  • Gallery

    मधेपुरा जिले में कोविड टीकाकरण का आंकड़ा 5 लाख के पार

    2021-08-18

    मधेपुरा, 18 अगस्त: वैश्विक महामारी कोरोना के विरुद्ध जिले में कोविड टीकाकरण का अभियान लगातार चलाया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन द्वारा शहरी एवम् ग्रामीण इलाकों में अभियान चलाकर पात्र लाभुकों को वैक्सीन लगायी जा रही है। पिछले कुछ दिनों से दूसरे डोज लगाए जाने को लेकर विशेष अभियान भी साथ साथ चलाया जा रहा है। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी भी लोगों से सेकंड डोज लेने के लिए लगातार अपील कर रहे हैं। यही वजह है कि जिले में कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लेने वालों का संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है। कोविन पोर्टल के अनुसार बुधवार शाम को कुल डोज लेने वालों का आंकड़ा 5 लाख के पार हो गया। उल्लेखनीय है कि टीकाकरण अभियान की शुरुआत से अभी तक जिले में लगभग 4 लाख 30 हजार लोगों ने प्रथम तथा लगभग 74 हजार लोगों ने दोनों डोज ले लिया है। जिले के सिविल सर्जन डॉ अमरेन्द्र नारायण शाही ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम फील्ड में लगातार कोरोना वायरस से बचाव के लिए कोरोना रोधी टीका लगा रही है। जिले में अबतक 5 लाख से ज्यादा डोज लगायी जा चुकी है। 

    74 हजार से अधिक लोगों को लगायी  जा चुकी  है वैक्सीन की दोनों डोज: सिविल सर्जन
    सिविल सर्जन ने बताया कि वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत से बुधवार तक 74 हजार से अधिक लोगों ने कोरोना रोधी टीका का दोनों डोज ले लिया है। वहीं प्रथम डोज लेने वाले की संख्या की रफ्तार भी अच्छी खासी बढ़ी है जो 4 लाख 30 हजार से ऊपर है। उन्होंने कहा कि लोग अब भ्रांतियों को दरकिनार कर कोरोना रोधी टीका लगवा रहे हैं। वैक्सीन को लेकर लोगों में फैली जागरूकता का ही परिणाम है कि जिले में 5 लाख से अधिक डोज लगाए जा चुके हैं।

    दूसरे डोज से वंचित लाभुकों को कंट्रोल रूम से कॉल कर किया जाएगा संपर्क: 
    दूसरे डोज से किसी ना किसी कारणवश छूटे लाभुकों को जिले के कोविड कंट्रोल रूम से कॉल कर संपर्क किया जाएगा। इसके पीछे का उद्देश्य दूसरे डोज की महत्ता बताकर उन्हें टीका लगाया जाना है। उपरोक्त बात जी जानकारी जिले के प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ विपिन कुमार गुप्ता द्वारा दी गई। 

    टीका लेने वालों में युवाओं की संख्या सबसे अधिक: 
    टीकाकरण के उम्रवार आंकड़ों की बात की जाय तो जिले के 18 से 44 आयुवर्ग के 2 लाख 43 हजार से अधिक लाभुक ने टीका लगवा लिया है। वहीं 45 से 60 साल के आयु वर्ग में कुल 1 लाख 35 हजार से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है। बुजुर्गों की श्रेणी में 60 साल से ऊपर के लगभग 1 लाख 24 हजार बुजुर्गों को कोरोना रोधी वैक्सीन लगाई जा चुकी है। 

    कोरोना रोधी टीके का दोनों डोज समय पर लेना जरूरी: 
    जिले के सिविल सर्जन डॉ अमरेन्द्र नारायण शाही ने कहा कि संक्रमण से बचने के लिए टीका काफी कारगर है। टीका लगने के बाद शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है जो कोरोना संक्रमण से लड़ने में अहम भूमिका निभाती है। इसलिए यह जरूरी है कि लोग वैक्सीन की दोनों डोज जरूर लें एवं समय से लें। उन्होंने सेकंड डोज से वंचित लोगों को दूसरे डोज का टीका लगाने के लिए अपील भी की। वे कहते हैं कि लोग अब वैक्सीन को लेकर भ्रमित होने की स्थिति से बाहर आ चुके हैं। सिविल सर्जन कहते हैं कि जिन लोगों ने टीका लगवा लिया है वे लोग भी कोविड-19 गाइडलाइन का भी पालन जरूर करते रहें।