Mumkin hai India

  • Gallery

    कोरोना से बचाव को वैक्सीनेशन को लेकर लोगों में दिखा उत्साह,

    2021-07-29

    कोरोना से बचाव को वैक्सीनेशन को लेकर लोगों में दिखा उत्साह, केंद्रों पर पहुंचकर लगवाए टीके जिले के 76 केंद्रों पर 6 हजार से अधिक लोगों ने लिया कोरोना रोधी टीका: अन्य दिनों की अपेक्षा बढ़ी भीड़: मधेपुरा, 29 जुलाई। कोविड वैक्सीनेशन के लिए लोगों की भीड़ उमड़ने लगी है। जागरूकता अभियान का परिणाम है कि गुरुवार को जिले के शहरी वार्ड सहित प्रखंड क्षेत्र के स्वास्थ्य केंद्र, उप स्वास्थ्य केंद्र विद्यालय, आंगनबाड़ी केंद्र आदि पर आयोजित कोविड-19 टीकाकरण अभियान में 75 टीकाकरण केंद्रों व शिविरों के माध्यम से 6000 से अधिक लोगों ने कोरोना का टीका लिया। गुरुवार को आयोजित टीकाकरण अभियान में जिले के 76 टीकाकरण केंद्रों व शिविरों में अन्य दिनों के अपेक्षा काफी भीड़ देखी गई। जिले के सिविल सर्जन डॉ अमरेन्द्र नारायण शाही कहते हैं कि शहरी क्षेत्र में आजीविका समूह की महिलाओं, आशा एवं ग्रामीण क्षेत्र में जीविका तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता द्वारा लाभुकों को टीकाकरण के लिए प्रेरित (मोबिलाइज) करने का सराहनीय कार्य किया गया है। कोविड टीकाकरण को लेकर वर्तमान में क्लस्टर एप्रोच अपनाकर एवं प्रखंड स्तर पर माइक्रो प्लान तैयार कर टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। वैक्सीनेशन सेंटर में इन दिनों टीका लेने के लिए आ रहे लोगों में मुख्य रूप से प्रचार-प्रसार के लिए पंचायत स्तर पर आशा कर्मी, जीविका, आंगनबाड़ी सेविका, धर्मगुरुओं एवं ग्रामीण चिकित्सों के द्वारा लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। संभावित तीसरी लहर से बचाव के लिए, टीकाकरण के साथ-साथ व्यवहार परिवर्तन लाना भी है जरूरी: सिविल सर्जन सिविल सर्जन डॉ. अमरेन्द्र नारायण शाही ने कहा कोरोना की दूसरी लहर से कई लोगों ने अपनो को खोया है। इसलिए यह लोगों की भी जिम्मेदारी बनती है कि वह अपनी सोच और सामाजिक व्यवहार में परिवर्तन लायें। कोरोना वायरस से ख़ुद को सुरक्षित रखने का सबसे महत्वपूर्ण उपाय है कि साफ-सफाई का ध्यान रखना। समय से दूसरी डोज लेना बेहद जरूरी: जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ विपिन कुमार गुप्ता ने कहा कि संक्रमण से बचने के लिए टीका काफी कारगर है। टीका लगने के बाद शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है जो कोरोना संक्रमण से लड़ने में अहम भूमिका निभाती है। इसलिए यह जरूरी है कि लोग वैक्सीन की दोनों डोज जरूर लें एवं समय से लें। लोग अब वैक्सीन को लेकर भ्रमित होने की स्थिति से बाहर आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि जिले में कुछ ऐसे सुदूरवर्ती इलाके हैं जहाँ कि लोग टीकाकरण केंद्र पर नहीं पहुंच पा रहे थे। उनके लिए टीका एक्सप्रेस वाहन चलाया गया है जिसका काफी अच्छा परिणाम देखने को मिल रहा है। डाॅ गुप्ता कहते हैं कि जिन लोगों ने टीका लगवा लिया है वे लोग भी कोविड-19 गाइडलाइन का भी पालन जरूर करते रहें । 1 लाख 70 हजार से ज्यादा डोज महिला लाभार्थियों को लगाई गई हैं: जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने बताया कि जिले में शुरुआत से जारी टीकाकरण अभियान ने कुल 1 लाख 70 हजार से ज्यादा डोज महिला लाभार्थियों को लगाई गई है। वहीं पुरुष लाभार्थियों को अबतक लगभग 1 लाख 90 हजार डोज लगाई गई है। टीका लेने वालों में युवाओं अर्थात 18 से 44 वर्ष वाले लाभार्थियों की संख्या सबसे अधिक है। उसके बाद 45 से 60 साल की श्रेणी में लगभग 1 लाख 3 हजार एवं 60 से अधिक उम्र वाले लाभार्थियों की श्रेणी में टीका लेने वालों की संख्या लगभग 1 लाख 3 हजार है।