Mumkin hai India

  • ताजा खबरें

    मेडिफ्री डिजिटल मोबाईल एप हुआ लांच ! जाने क्या है खास

    सारण में बेटा नहीं जनने के कारण गई प्रमिला की जान

    छपरा: पचास हजार का ईनामी अपराधी को सारण पुलिस ने किया गिरफ्तार

    मांझी: चाकू का भय दिखा कर दिनदहाड़े बाइक और मोबाइल की लूट

    मांझी: चाकू मार किया जख्मी 18 हजार लूट फरार हुए अपराधी

    छपरा: सारण जिले में असामाजिक तत्व व अपराधी किस्म के लोगो की खैर नहीं - सारण पुलिस

    Covid-19 गाइडलाइन उल्लंघन मामले में गायिका निशा उपाध्याय पर प्राथमिकी दर्ज मैरिज हॉल हुआ सील

    यूएनएससी की खुली बहस में भारत ने दुनिया का ध्यान साइबर स्पेस के गलत इस्तेमाल की तरफ खींचा

    मुख्यमंत्री केजरीवाल का एलान, पंजाब में 'आप' की सरकार बानी तो 300 यूनिट बिजली होगी फ्री

    बालाजी श्रीवास्तव दिल्ली पुलिस के नए कमिश्नर होंगे। दिल्ली पुलिस कमिश्नर

    लक्ष्य हासिल करने के लिए दृढ़ संकल्प, लगन के साथ सही दिशा में प्रयास बेहद जरूरी- दीपक आनंद

    ठनका गिरने से युवती की मौत

    कोरोना की लड़ाई में विपक्षी दल बाधक, जनता को कर रही है गुमराह: जेपी नड्डा

    अगले सप्ताह 'अग्नि प्राइम' ​मिसाइल का होगा ​परीक्षण ​​​​, उड़ीसा के तट पर हो रहा है तैयारी

    बंगाल सरकार ने माध्यमिक और उच्च-माध्यमिक की परीक्षाएं की रद्द

    ना तो भाजपा का सक्रिय सदस्य हूं, ना ही किसी संगठन से जुड़ा व्यक्ति हूं: वसीम रिजवी

    लाहौर में आतंकी हाफिस सईद के घर के पास हुए धमाके में तीन लोगों की मौत, 23 घायल

    छपरा: तेज आंधी पानी के दौरान ठनका गिरने से एक युवक की मौत

    छपरा: बाबा रामदेव के द्वारा किए गए आपत्तिजनक टिप्पणी के विरोध में डॉक्टरों का आक्रोश

    SC ने12वीं की परीक्षाएं रद्द नहीं करने वाले राज्यों को भेजा नोटिस

    गृह मंत्रालय ने हटाई मुकुल रॉय की Z सिक्‍योरिटी

    राम मंदिर ट्रस्ट मामला:नोएडा से लेकर प्रयागराज तक कांग्रेस का जोरदार प्रदर्शन, हुई गिरफ्तारियां

    CBSE RESULT: अगले महीने जारी होगा 12वीं बोर्ड का रिजल्ट, इस आधार पर निर्धारित होंगे अंक

    दक्षिण सूडान में 135 भारतीय सैनिक संयुक्त राष्ट्र पदक से सम्मनित

    सुप्रीम कोर्ट ने इटली के दो नौसैनिकों पर भारत में चल रहे मुकदमे को बंद करने का दिया आदेश

    सीआईएसएफ ने संभाली भारत बायोटेक के परिसर की सुरक्षा की जिम्मेदारी

    अब गुजरात मे भी शादी के लिए जबरन धर्म परिवर्तन कराना होगा अपराध, लव जिहाद कानून हुआ लागू

    Gallery

    किशनगंज जिले में घर बैठे मिलेगी ई-संजीवनी टेलीमेडिसिन ओपीडी की सुविधा

    2021-07-22

    किशनगंज , 22 जुलाई : जिले में अब घर बैठे ही ओपीडी की  सेवा प्राप्त की  जा सकती है|} इसकी शुरुआत कोविड -19 महामारी के दौर में रोगियों को घर बैठे डॉक्टरों से परामर्श प्राप्त करने में सक्षम बनाने के उद्देश्य से की गई थी| इसके माध्यम से नागरिक बिना अस्पताल जाए व्यक्तिगत रूप से डॉक्टरों से परामर्श कर सकते हैं। सबसे महत्त्वपूर्ण बात यह है कि यह एंड्रॉइड मोबाइल एप्लीकेशन के रूप में सभी नागरिकों के लिये उपलब्ध है। वर्तमान में सूबे में लगभग 2800 प्रशिक्षित डॉक्टर ई-संजीवनी ओपीडी (eSanjeevaniOPD) पर उपलब्ध हैं, और रोज़ाना लगभग 250 डॉक्टर और विशेषज्ञ ई-स्वास्थ्य सेवाएँ उपलब्ध करा रहे हैं। इसके माध्यम से आम लोगों के लिये बिना यात्रा किये स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ प्राप्त करना काफी आसान हो गया है |
    टेलीमेडिसिन के जरिये भी मरीजों का इलाज किया जाएगा-
    जिला स्वास्थ्य समिति के जिला कार्यक्रम समन्वयक विश्वजीत  कुमार ने बताया कि अब टेलीमेडिसिन के जरिये भी मरीजों का इलाज किया जाएगा। टेलीमेडिसिन के तहत मरीज अपनी समस्या बताकर डॉक्टर से परामर्श ले सकते हैं। स्वास्थ्य देखभाल के क्षेत्र में यह एक उभरती विधा है जहां सूचना प्रौद्योगिकी के साथ-साथ चिकित्सा विज्ञान के प्रक्रियात्मक संकेंद्रण से ग्रामीण और दूरदराज इलाके में स्वास्थ्य के विभिन्न आयामों की जानकारी विशेषज्ञ चिकित्सक के द्वारा दी जाती है। इस सुविधा के तहत रोगी और विशेषज्ञ चिकित्सक आपस में बात करते हैं। साथ ही ईसीजी, रेडियोलॉजिकल, नैदानिक परीक्षण सहित अन्य चिकित्सकीय जानकारी, इलेक्ट्रॉनिक चिकित्सा, रिकार्ड भेजने और आईटी आधारित हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की सहायता से मिलेगी ।
     
     हब एंड स्कोप प्रणाली से काम करेगी टेली मेडिसिन सुविधा:
    - जिला स्वास्थ्य समिति के जिला कार्यक्रम प्रबन्धक डॉ मुनाजिम ने बताया कि ई संजीवनी टेलीमेडिसिन ओपीडी क्रियान्वयन के तहत हब एवं प्रणाली के रूप में कार्यरत होगा । जिसमें मरीज स्वास्थ्य विशेषज्ञों से  मंगलवार , बुधवार और शुक्रवार  को ई संजीवनी एप  के माध्यम से सुबह 09 बजे से 02 बजे के बीच चिकित्सकीय सलाह प्राप्त कर सकते हैं | चिकित्सक के द्वारा बताये गये दवा को नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र से निःशुल्क प्राप्त किया जा सकता है|   पालीवार विशेषज्ञ चिकित्सक टेलीमेडिसिन के माध्यम से मरीजों को सलाह देने के लिए उपलब्ध होंगे। इसके तहत चिकित्सकीय शिक्षा, प्रशिक्षण और इसका प्रबंधन तक शामिल हैं| स्वास्थ्य विशेषज्ञों से मरीज टेलीफोन पर ही चिकित्सा से संबंधित परामर्श प्राप्त कर सकते हैं| इलेक्‍ट्रॉनिक तरीके से मरीज चिकित्सकीय जानकारी भेज सकते हैं और वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के साथ हार्डवेयर व सॉफ्टवेयर की मदद से रियल टाइम परिस्थितियों में सहायता प्राप्त कर सकते हैं|
    ई संजीवनी टेलीमेडिसिन से सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों के मरीजों को मिलेगी सुविधाएं:
    सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया कि सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सकों की उपलब्धता नहीं होने से मरीजों को परेशानी होती है| मरीज सिर्फ जिला ही नहीं  बल्कि अन्य जिलों  के स्वास्थ्य विशेषज्ञों से भी  मंगलवार , बुधवार और शुक्रवार  को ई संजीवनी एप  के माध्यम से सुबह 09 बजे से 02 बजे के बीच चिकित्सकीय सलाह प्राप्त कर सकते है| ई.संजीवनी टेलीमेडिसिन सेवाओं के तहत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ऑनलाइन चिकित्सकीय परामर्श के ही इलाज के लिए पप्री स्क्रीप्शन की  सॉफ्ट कॉपी और जहां पीओएस की  सुविधा उपलब्ध है वहां हार्ड कॉपी निकालने की सुविधा की शुरुआत हुई है । इसके अलावा सभी स्वास्थ्य  उपकेन्द्रों पर कार्ररत एएनएम इलाज के लिए आने वाले किसी भी बीमारी से ग्रसित रोगियों का नाम, पता और उसकी परेशानी अपने पास मौजूद 4 जी सेवा से युक्त अनमोल टैब पर रजिस्टर्ड करने के बाद ई. संजीवनी टेली मेडिसिन हब से जुड़े जिले के चिकित्सकों में से किसी से भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मरीज और डॉक्टर को एक दूसरे के सामने ले आती  और मरीज ऑनलाइन ही डॉक्टर से परामर्श लेने के साथ ही इलाज से जुड़े डॉक्टर के  प्रि प्रीस्क्रीप्शन की  सॉफ्ट कॉपी या हार्ड कॉपी का प्रिंट निकाल सकता है। 
     
    घर बैठे कोविड एवं अन्य बिमारी से संबंधित चिकित्सीय परामर्श प्राप्त करने हेतु अवश्य डाउनलोड करें  - https://play.google.com/store/apps/details?id=in.hied.esanjeevaniopd लिंक पर क्लिक करें। e-Sanjeevani OPD App डाउनलोड करने के उपरांत अपना पंजीकरण कर मंगलवार, बुधवार एवं शुक्रवार को प्रातः 09 बजे से अपराह्न 02 बजे तक आप चिकित्सीय परामर्श प्राप्त कर सकते हैं ।