Mumkin hai India

  • Gallery

    जिलाधिकारी ने किया सदर अस्पताल परिसर में निर्माणाधीन ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण

    2021-07-15

    अररिया, 15 जुलाई: जिलाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच ने गुरुवार को सदर अस्पातल का निरीक्षण किया। डीएम ने सदर अस्पताल के विभिन्न ईकाइयों का निरीक्षण किया। इस क्रम में उन्होंने जिले के विभिन्न हिस्से से आने वाले मरीजों को बेहतर इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से स्वास्थ्य अधिकारियों को कई निर्देश दिये। निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी ने सदर परिसर में निर्माणाधीन 200 लीटर प्रति मिनट क्षमता वाले ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने प्लांट की कार्यप्रणाली के विषय में स्वास्थ्य अधिकारियों से जरूरी पूछताछ की। साथ ही प्लांट का बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित कराने को लेकर स्वास्थ्य अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश दिये। इस क्रम में सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ मोईज, डीपीएम रेहान अशरफ, डॉ जीतेंद्र प्रसाद, अस्पताल प्रंबंधक विकस आनंद सहित संबंधित अन्य अधिकारी मौजूद थे। 

    ऑक्सीजन प्लांट के सफल संचालन को लेकर दिये कई निर्देश: जिलाधिकारी
    निर्माणाधिन ऑक्सीजन प्लांट के निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच ने प्लांट के सफल क्रियान्वयन को लेकर कई जरूरी दिशा निर्देश दिये। बीएसए प्लांट के संचालन के विभिन्न पहलूओं से अवगत होते हुए डीम ने कहा 125 किलोवाट का ट्रांसफार्मर लगाया जायेगा। जिलाधिकाररी ने इसके लिये चिह्नित स्थान का मुआयना किया। इस क्रम में जिलाधिकारी को 600 लीटर प्रति क्षमता वाले ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना से संबंधित जानकारी दी गयी। इसके बाद डीएम ने सदर परिसर में स्थापित किये जा रहे ब्लड बैंक का निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में उन्हें ब्लड बैंक के संचालन में आ रही अड़चनों से अवगत कराया गया। साथ ही कुछ उपस्कर की कमी से उन्हें अवगत कराया। इसे लेकर डीएम ने सिविल सर्जन को बीएमआईसीएल पत्राचार कर जरूरी उपकरण की उपलब्धता तत्काल सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। सिविल सर्जन ने बताया कि 15 अगस्त से पूर्व 200 लीटर प्रति मिनट क्षमता वाले प्लांट का क्रियान्वयन सुनिश्चित कराने का भरोसा दिलाया गया। 


    150 ब्लड यूनिट क्षमता वाले दो ब्लड स्टोरेज सेंटर की होगी स्थापना: डीएम 
    निरीक्षण के क्रम में सदर डीएम को जिले में पैथोलॉजिस्ट की कमी की समस्या से अवगत कराया गया। राज्य स्तर पर इसकी व्यवस्था सुनिश्चित कराने का प्रयास किया जा रहा है। जानकारी दी गयी कि जिले में ब्लड बैंक का संचालन शुरू होने के बाद इसकी मदद से जिले में दो ब्लड स्टोरेज यूनिट का संचालन संभव हो सकेगा। जोकीहाट व रानीगंज में ब्लड स्टोरेज यूनिट की स्थापना की जानकारी निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी द्वारा दी गयी। इसकी ब्लड स्टोरेज क्षमता 150 यूनिट के करीब होगी। निरीक्षण के क्रम में अस्पताल परिसर में अधूरे निर्माण इकाई के बारे में अधिकारियों से जरूरी पूछताछ की। डीएम ने कहा कि अधूरे भवन को पूर्ण करने के लिये जल्द ही उनके माध्यम से संबंधित विभाग को पत्राचार किया जायेगा। उन्होंने डीएचएस परिसर के स्टोरेज हाउस का निरीक्षण किया। जरूरी उपकरण व दवाओं के रखरखाव में होने वाली दिक्कतों से अवगत होते हुए डीएम ने तत्काल इस पर जरूरी पहल सुनिश्चित कराने का भरोसा दिलाया।