Mumkin hai India

  • Gallery

    सभी 18 प्लस लोगों को सूचीबद्ध कर दिया जाएगा टीका: जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी

    2021-07-08

    सहरसा, 08 जुलाई: जिले में कोविड- 19 टीकाकरण जारी है। 16 जनवरी 1 से जारी कोविड- 19 टीकाकरण अपने विभिन्न चरणों से गुजरता हुआ आज 18 प्लस के सभी लोगों के टीकाकरण प्राप्ति के लक्ष्य की ओर अग्रसर है। अब तक अधिकांश 18 प्लस लोगों का टीकाकरण हो चुका है। ऐसे में बचे लोगों को चिह्नित  करते हुए सूचीबद्ध कर कोविड- 19 का टीका लगाना जरूरी है। ताकि कोरोना की संभावित तीसरी लहर आने से पहले कोरोना टीका ले चुके लोगों की एक विशाल कोविड सेना तैयार हो सके। 

    जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डा. कुमार विवेकानंद ने बताया शहरी क्षेत्र सहरसा में 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लाभार्थियों का कोविड- 19 टीकाकरण किया जाना है। इसके लिए छूटे सभी लाभार्थियों का लाइन लिस्ट आंगनबाड़ी सेविका एवं जीविका दीदियों के द्वारा तैयार करने को  जिला प्रोग्राम पदाधिकारी, समेकित बाल विकास परियोजना, सहरसा एवं जिला कार्यक्रम प्रबंधक (जीविका) सहरसा को निदेशित कर दिया गया है। शहरी क्षेत्र सहरसा की कोविड- 19 टीकाकरण कार्ययोजना एक दिन पूर्व ई-मेल एवं व्हाट्स एप्प के माध्यम से शहरी क्षेत्र के सभी संबंधित स्वास्थ्य कर्मियों को उपलब्ध करा दी जाएगी।

    मेगा अभियान चलाकर किया जाएगा टीकाकरण
    शहरी क्षेत्र सहरसा में शेष बचे 18 प्लस के सभी लोगों को कोविड- 19 टीकाकरण के लिए मेगा अभियान चलाकर कोविड टीकाकरण किया जाएगा। शहरी क्षेत्र में अभी 62 टीकाकरण सत्र स्थलों पर कोविड- 19 टीकाकरण जारी है। आवश्यक होने पर टीकाकरण सत्र स्थलों की संख्या बढ़ायी भी जा सकती है।

    18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों से की अपील
    जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने शहरी क्षेत्र के सभी 18 प्लस के लोगों से अपील करते हुए कहा शहरी क्षेत्र के 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों का कोविड- 19 टीका जरूर लगाना चाहिए। अभी बड़े पैमाने पर कोविड टीकाकरण अभियान जिले में चलाया जा रहा है। खासकर शहरी क्षेत्र सहरसा में 18 प्लस के सभी लोगों को जितना जल्द हो सके कोविड टीका लगाया जा सके, इसके लिए जिला स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से तत्पर है। उन्होंने  कहा 18 प्लस आयु के जितने लोग कोविड- 19 का टीका लगवा रहे हैं वे हमारे कोविड सैनिक हैं। जिन्हें संभावित कोरोना की तीसरी लहर आने से पहले कोविड- 19 का टीका निश्चित रूप से लगा लेना चाहिए। ताकि यदि कोरोना की तीसरी लहर आये तो एक बड़ी आबादी को संक्रमित होने से बचाया जा सके।