Mumkin hai India

  • Gallery

    10 जुलाई तक जिले के सभी नगर निकायों के सभी लाभार्थी को वैक्सीन देने का लक्ष्य निर्धारित

    2021-07-07

    किशनगंज, 07 जुलाई: कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर को देखते हुये जिले में जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग ने पूरी तरह से कमर कस ली है। जिला प्रशासन जल्द से जल्द जिले के सभी लोगों को टीकाकृत करने की तैयारी में लगी हुई है। इस क्रम में जिला समेत पूरे राज्य में मेगा वैक्सीनेशन अभियान चलाये जा रहे हैं। जिसे लोगों की सुविधा को देखते हुये और भी सरल बनाया जा रहा है। ताकि, लोगों को वैक्सीन लेने में किसी प्रकार की कोई परेशानी का सामना न करना पड़े। जिलाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने स्वास्थ्य समिति व अन्य सहयोगी विभागों के अधिकारियों के साथ मिलकर जिले के नगर निकाय में पूर्ण टीकाकरण के लिए अगले तीन दिनों तक मेगा वैक्सीनेशन कैंपेन के लिये मास्टर प्लान बनाया है। जिसमें आगामी 10 जुलाई तक 18 वर्ष के ऊपर के उम्र के सभी लाभार्थियों को टीकाकृत करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिससे कम समय में अधिक लक्षित समूह के लोगों को वैक्सीनेट किया जा सके।

    नगर निकाय में कुल 70 टीकाकरण स्थल  का किया गया चयन: सिविल सर्जन
    सिविल सर्जन डॉ. श्री नंदन ने बताया, बीते दिनों जिला प्रशासन व अन्य सभी विभागों की बैठक में जिलाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने वैक्सीनेशन अभियान को लेकर कई महत्वपूर्ण निणर्य लिया है। जिसमें किशनगंज नगर निकाय क्षेत्र में 38, बहादुरगंज नगर पंचायत में 12, ठाकुरगंज नगर पंचायत 20 टीकाकरण स्थल बनाये गए हैं। शहरी इलाकों में 18 वर्ष व उससे अधिक उम्र के सभी लोगों को वैक्सीनेट करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया, इस दौरान लाभार्थियों को वैक्सीन की पहली डोज के साथ-साथ दूसरी डोज की अवधि पूर्ण करने वाले लाभुकों के लिये भी सत्रों का संचालन किया जायेगा।

    शहरी इलाकों में लोगों के आवागमन से संक्रमण प्रसार की रहती है प्रबल संभावना: 
    सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया, शहरी इलाकों के लोगों को पहले वैक्सीन देने का निर्णय सराहनीय है। इससे कोरोना के संभावित संक्रमण का प्रसार कम होगा। क्योंकि, शाहरी इलाकों में लोगों का आवागमन अधिक होता है। जिससे संक्रमण की संभावना भी अधिक होती है। इसका उदाहरण कोरोना के दोनों स्ट्रेन में देखने को मिला। जिसके कारण शहरी इलाकों में मेगा वैक्सेनशन कैंपन के तहत वार्डवार सत्र स्थलों का संचालन किया जायेगा। वहीं, ग्रामीण इलाकों में लोगों की चहलकदमी कम होती है, जिसको देखते हुये जिले के नगर निकाय क्षेत्र में संपूर्ण रूप से टीकाकरण किया जायेगा। हालांकि, इतने बड़े लक्ष्य को वैक्सीनेट करने के लिये 15000 डोज वैक्सीन उपलब्ध कराई गई है। इसके अलावा और भी मात्रा में वैक्सीन चाहिये होगी। जिसकी मांग जिलाधिकारी व सिविल सर्जन के द्वारा की जा रही है।