Mumkin hai India

  • Gallery

    अनमोल एप की मदद से गर्भवती महिलाओं और शिशुओं की ऑनलाइन मॉनिटरिंग की जा सकेगी

    2021-07-06

    किशनगंज, 06 जुलाई: जिले में मंगलवार को सभी प्रखंड के प्राथमिक एवं अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में अनमोल एप के सफल संचालन के लिए ए एन एम को प्रशिक्षण दिया गया। गर्भवती महिलाओं की सेहत का राज अब अनमोल एप बताएगा। गर्भवती से जुड़ी सभी जांच रिपोर्ट इस एप पर लोड की जाएगी, ताकि मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य के सटीक आंकड़े प्राप्त हो सकें। इसमें मोबाइल नेटवर्क नहीं होने के बाद भी ऑफलाइन डेटा लोड किया जा सकेगा। टीकाकरण सहित कई काम को एप से संचालित किया जाएगा। इसकी मॉनिटरिंग जिला सहित प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर पर अधिकारी कर सकेंगे। एप पर गर्भवती महिला और नवजात शिशु की मॉनिटरिंग की जाएगी। इस एप को पूर्णत: लागू करने के लिए जिले के सभी प्राथमिक एवं अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य में सभी प्रखंड के बीएचएम तथा प्रखंड अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी को प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एव केयर इंडिया की मदद से एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के कारण अनमोल एप से संबंधित प्रशिक्षण कार्यक्रम बाधित हो गया था। अब संक्रमण बहुत कम हो गया है। इसको देखते हुए प्रखंड स्तर पर प्रत्येक मंगलवार को प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक एवं प्रखंड अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी द्वारा संबंधित एएनएम को अनमोल एप के सफल क्रियान्वयन को लेकर प्रशिक्षण दिया जायेगा। 

    एप की मदद से होगी निगरानी: सिविल सर्जन
    सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया स्मार्ट टैब पर आरसीएच के नए सॉफ्टवेयर और मोबाइल एप अनमोल यानी एएनएम ऑनलाइन पर पूरा काम होगा। डेटा अपडेट होने में समय नहीं लगेगा। मौके से ही डेटा अपडेट हो जाएगा। एप की मदद से एएनएम अपने क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं और शिशुओं की ऑनलाइन मॉनिटरिंग कर सकेंगी। महिलाओं व शिशु को कौन सा टीका लगाना है एएनएम के एप में फीड होगा। एप में महिला के गर्भ धारण के बाद से प्रसव व नवजात शिशु को लगने वाले समस्त टीकों की जानकारी होगी। बता दें कि मोबाइल एप पर गांव की गर्भवती और नवजातों की जानकारी होगी। एएनएम को पहले रजिस्टर में डेटा तैयार करना पड़ता था। अब मौके से ही एएनएम एप पर डेटा ऑनलाइन अपलोड कर देगी।

    योग्य दंपति, गर्भवती महिला पंजीकरण, इत्यादि की जानकारियां होंगी दर्ज: शशि भूषण
    जिला अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी शशि भूषण  ने बताया एएनएम द्वारा स्वास्थ्य विभाग से जुड़े तरह-तरह के कार्य किये जाते हैं। जैसे कि, प्रसव पूर्व जांच, परिवार कल्याण, प्रसव, टीकाकरण समेत खासकर शिशु एवं मातृ कार्यक्रम से जुड़े सभी कार्य। जिसे आरसीएच रजिस्टर में भरना होता है एवं इसके बाद इसे आरसीएच पोर्टल पर अपलोड भी करना पड़ता है। जिसमें परेशानी के साथ-साथ समय बर्बाद होता है। इस समस्या को दूर करने के लिए अनमोल एप लांच किया गया है। इससे ना सिर्फ काम करना आसान होगा। बल्कि, समय पर सभी प्रकार के प्रतिवेदन ऑनलाइन प्रेषित किये जा सकेंगे। इस एप में योग्य दंपती, गर्भवती महिला पंजीकरण, एएनसी जांच का विवरण, प्रसव का परिणाम, पीएचसी प्रसवोत्तर देखरेख ,शिशु की देखभाल, मातृ मृत्यु सूचना,गर्भपात सूची, शिशु मृत्यु सूची, शिशु की देखभाल, शिशु जन्म का सीधा पंजीकरण, शिशु की ट्रैकिग भी हो सकेगी।


    इन मानकों का करें पालन, कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर: 
    - मास्क का उपयोग एवं शारीरिक दूरी का पालन जारी रखें।
    - बारी आने पर निश्चित रूप से वैक्सीनेशन कराएं और दूसरों को भी प्रेरित करें।
    - लक्षण महसूस होने पर तुरंत स्थानीय स्वास्थ्य संस्थान में कोविड-19 जाँच कराएं।
    - भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।
    - यात्रा के दौरान सैनिटाइजर का उपयोग करें। 
    - बाहरी और बासी खाना से बिलकुल दूर रहें।
    - गर्म व ताजा खाना का सेवन करें।