Mumkin hai India

  • Gallery

    मेगा टीकाकरण अभियान : सत्र स्थलों पर टीकाकरण के लिए जुट रही है भीड़

    2021-07-03

    पूर्णिया, 03 जुलाई: कोरोना वायरस संक्रमण को समाप्त करने के लिए ज़िले के सभी क्षेत्रों में 18 आयुवर्ग से लेकर 44 वर्ष एवं 45 वर्ष से ऊपर वाले लाभार्थियों के कोविड-19 टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा विशेष टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। मेगा टीकाकरण अभियान के लिए ज़िले के सभी प्रखंडों में  लगभग 430 सत्र स्थल बनाए गए हैं। जिसमें पूर्णिया शहरी क्षेत्र के सभी 46 वार्डों में 29 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में प्रखंड मुख्यालय सहित पांच जगह सत्र स्थल बनाये गए हैं। टीकाकरण के लिए आयोजित मेगा टीकाकरण अभियान में 18 वर्ष से लेकर 44 आयुवर्ग एवं 45 वर्ष से ऊपर के लाभार्थियों का टीकाकरण किया जा रहा है। टीका लेने वाले में युवाओं की भीड़ देखी जा रही है। जिलाधिकारी राहुल कुमार ने मेगा टीकाकरण के आयोजन के संबंध में बताया टीकाकरण कार्य सुचारू रूप से संचालित करने एवं शत प्रतिशत लक्ष्य को पूरा करने के लिए ज़िले के सभी एमओआईसी, बीएचएम, बीसीएम, पंचायती राज पदाधिकारी, आईसीडीएस से जुड़े सीडीपीओ, महिला पर्यवेक्षिका, सेविका व सहायिकाओं, जीविका से जुड़े सभी अधिकारी, शिक्षक व शिक्षिकाओं को टीकाकरण केंद्र पर लगाया गया है। सभी नोडल अधिकारी द्वारा अपने-अपने क्षेत्र अंतर्गत सत्र स्थलों का निरीक्षण के दौरान यह भी सुनिश्चित किया जाना है कि वहां कोविड-19 प्रोटोकॉल के साथ टीकाकरण करवाया जा रहा था।

    संक्रमण को जड़ से मिटाने में टीकाकरण ही एक मात्र हथियार: जिलाधिकारी
    जिलाधिकारी राहुल कुमार ने बताया सरकार द्वारा उपलब्ध कोविड-19 का टीका संक्रमण को जड़ से मिटाने के लिए एक मात्र हथियार होने के साथ ही पूरी तरह सुरक्षित भी है। कोविड-19 वायरस के संक्रमण से बचाव व सुरक्षा के लिए टीका लगवाना ही एक मात्र उपाय है। क्योंकि अभी तक लाखों लोगों ने कोविड का टीका लिया है लेकिन किसी को भी कोई परेशानी नहीं हुई है। बल्कि लगाए जा रहे टीके से लोगों में रोग प्रतिरोधक क्षमता की वृद्धि हो रही है। इसके साथ ही संक्रमण से मुक्त होने में समय भी बहुत कम लग रहा है। इसलिए सभी लोगों को अपने नजदीकी टीकाकरण सत्र स्थल पर जाकर कोविड-19 का टीका जरूर लगवाना चाहिए। टीकाकरण कार्य टाउन हॉल सहित शहरी क्षेत्रों में सुबह के 09 बजे से रात्रि के 09 बजे तक चलाया गया। जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह 09 बजे से लेकर शाम के 05 बजे तक रखा गया था। प्रखण्ड स्तर के योग्य पात्र जो 18 वर्ष से लेकर 44 वर्ष तक लाभार्थियों को टीकाकरण कराने की पूरी जिम्मेदारी सत्र स्थलों के लिए प्रतिनियुक्त नोडल पदाधिकारियों की होगी। 

    03 बजे तक 13 हजार से अधिक लोगों द्वारा लगाया गया टीका :
    मेगा टीकाकरण अभियान के लिए जिले में 40 हजार लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया था जिसमें दोपहर 03 बजे तक 13 हजार 208 लोगों द्वारा टीका लगाया जा चुका था। इसमें अमौर में 300, बैसा में 200, बायसी में 1108, डगरुआ में 498, पूर्णिया पूर्व शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में 2000, सदर क्षेत्र टाउन हॉल में 300, कसबा में 810, जलालगढ़ में 500, श्रीनगर में 600, के.नगर में 1010, बनबनखी में 832, भवानीपुर में 1500, बी.कोठी में 850, धमदाहा में 1200 तथा रुपौली में 1500 लोगों द्वारा टीकाकरण करवाया गया है। सभी टीकाकरण केंद्रों में लोगों की टीकाकरण कार्य जारी है जो ग्रामीण क्षेत्रों में शाम 05 बजे तक व शहरी क्षेत्रों में रात 09 बजे तक टीकाकरण कार्य जारी रहेगा। 

    430 टीकाकरण केंद्रों के माध्यम से 40 हज़ार टीकाकृत करने का दिया गया लक्ष्य: सीएस
    सिविल सर्जन डॉ एसके वर्मा ने बताया मेगा टीकाकरण अभियान के दौरान शत प्रतिशत लक्ष्य को पूरा करने के उद्देश्य से ज़िले के सभी स्वास्थ्य केंद्रों को अलग-अलग लक्ष्य दिया गया है । जिले के बैसा को 2 हजार, अमौर को 25 सौ, बायसी को 3 हज़ार, डगरुआ को 2 हज़ार, पूर्णिया पूर्व को 25 सौ, पूर्णिया शहरी को 7 हज़ार, कसबा को 2 हज़ार, जलालगढ़ को 2 हज़ार, श्रीनगर को 2 हजार, के नगर को 2 हज़ार, बनमनखी को 3 हज़ार, बी कोठी को 2 हज़ार, भवानीपुर को 25 सौ, रुपौली को 25 सौ व धमदाहा को 3 हज़ार टीकाकरण कराने के लिए लक्षित किया गया है।

    घर के नजदीक ही सत्र स्थल बना दिया गया है जिस कारण परेशानियां नहीं हो रही: 
    मेगा टीकाकरण को लेकर काफ़ी संख्या में युवाओं द्वारा टीका लगाया जा रहा है। जिले में ज्यादा से ज्यादा लोगों को टीका लगाया जा सके इसके लिए विभिन्न टीकाकरण सत्र स्थल बनाये गए थे। जहां ऑनलाइन के साथ ही ऑफलाइन पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। सबसे ज्यादा लाभ युवाओं के द्वारा उठाया जा रहा है। क्योंकि मुश्किल से 2 से तीन किलोमीटर की दूरी के अंतर पर टीकाकरण सत्र स्थल बनाया गया है। उत्क्रमित मध्य विद्यालय रामपुर बलुआ स्थित टीकाकरण केंद्र पर टीका लेने आई 35 वर्षीय सुनीता देवी ने बताया मेगा टीकाकरण अभियान के तहत बहुत से लोगों  को फ़ायदा पहुंच रहा है। क्योंकि पहले के समय में  टीकाकरण के लिए बहुत दूर या प्रखंड मुख्यालय स्थित अस्पताल जाना पड़ता था लेकिन अब तो घर के नजदीक ही सत्र स्थल बना दिया गया है जिस कारण परेशानियां नहीं  हो रही हैं।