Mumkin hai India

  • Gallery

    मेगा अभियान: मिशन 11 हजार लक्ष्य के आलोक में 11, 034 व्यक्तियों ने लिया सुरक्षा का टीका

    2021-07-02

    किशनगंज, 02 जुलाई: जिले में कोविड-19 टीकाकरण के मेगा अभियान में 11 हजार के लक्ष्य के आलोक में 11,034 लोगों ने टीका लिया। लोगों द्वारा टीकाकरण के प्रति रुचि दिखाई गई। लिहाजा स्वास्थ्य विभाग इस उपलब्धि से बेहद उत्साहित है। अब लोगों को विश्वास हो रहा कोविड-19 टीका बिल्कुल सुरक्षित है और यह लोगों की प्रतिरोधक क्षमता के विकास में सहायक होता है। इसलिए सभी लोगों को कोविड-19 का टीका लगाना जरूरी है। शहर के टाउन हॉल में सुबह के 9बजे से शाम के 9 बजे तक के लिए आदर्श टीकाकरण केंद्र भी बनाया गया है। जहां लगातार टीकाकरण कार्य सुचारू रूप से चलाया जाएगा। जिलाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने अभियान में बढ़-चढ़ कर अपनी भागीदारी निभाने के लिये आम जिलावासियों के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि जिले के शतप्रतिशत लोगों का टीकाकरण माह दिसम्बर तक संपन्न कराना जिला प्रशासन की प्राथमिकताओं में शुमार है। ज़िले से कोरोना संक्रमण वायरस को जड़ से मिटाने के उद्देश्य से सभी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों, सामुदायिक भवन, स्कूल एवं महाविद्यालयों में मेगा टीकाकरण अभियान का आयोजन किया जा रहा है। जिले में शहर से लेकर सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों तक 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के सभी लाभार्थियों का कोविड-19 टीकाकरण किया गया। मेगा टीकाकरण अभियान के  सभी नोडल पदाधिकारी के द्वारा  प्रत्येक प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में भ्रमण कर जानकारी ली गई और ज्यादा से ज्यादा लोग टीकाकरण अभियान में शामिल हो सकें  इसका निर्देश दिया गया।

    समय पर दूसरा डोज  लेना जरूरी: सीएस 
    सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने कहा जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग व अन्य विभागों के सामूहिक प्रयास से लोगों में टीकाकरण के प्रति जागरूकता हुई है और लोग टीकाकरण के आगे आ रहे हैं। यह बहुत ही अच्छी बात है क्योंकि लोग टीका लगाकर ही कोविड-19 संक्रमण से सुरक्षित रह सकते हैं। उन्होंने कहा लोगों को कोविड-19 से सुरक्षित रहने के लिए टीका का दोनों डोज लेना जरूरी है। कोविशील्ड की दूसरी डोज 84 दिनों के अंतराल पर लगायी जाती है। लोगों को कोविड-19 की दूसरी डोज लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों के पंजीकृत मोबाइल नम्बर पर एसएमएस के माध्यम से सूचना भी दी जाती है। लोग टीका की दोनों डोज लगाकर ही ज्यादा सुरक्षित रह सकते हैं। इसलिए सभी लोगों को कोविड-19 टीका की दोनों डोज लगानी चाहिए।

    टीकाकरण के प्रति युवाओं में दिखा जोश: 
    अभियान की सफलता में युवाओं की भागीदारी महत्वपूर्ण साबित हुई। रिपोर्ट के मुताबिक अभियान के तहत 18 साल से अधिक उम्र के कुल 7716 लोगों को टीका की  पहली  डोज लगायी  गयी। वहीं 45 साल से अधिक आयु वर्ग के 3318 लोगों को टीका की पहली डोज लगायी गयी। 

    टीकाकरण के मामले में अव्वल रहा ठाकुरगंज: 
    इस मेगा अभियान के दौरान टीकाकरण के मामले में ठाकुरगंज प्रखंड जिले के अन्य प्रखंडों की तुलना में शीर्ष पर रहा। ठाकुरगंज में टीकाकरण को लेकर 60 सत्र स्थल चयनित थे। जहां 2200 लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित था। इसकी तुलना में टीकाकरण की उपलब्धि 2203 रही। मामले में पोठिया प्रखंड दूसरे स्थान पर रहा। जहां 1900 लोगों को टीका लगाने के लक्ष्य था। वहीं उपलब्धि 1916 रही। इसी तरह अभियान के तहत कोचाधामन में 1990, दिघलबैंक  में 1200, बहादुरगंज  में 1200, किशनगंज ग्रामीण  में 1055, किशनगंज शहरी में 376, टेढ़ागाछ में 1094 लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया। 

    अभियान की सफलता से बढ़ा कर्मियों का उत्साह :
    सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने कहा जिलाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश के  कुशल नेतृत्व व बेहतर मार्गदर्शन अभियान की सफलता में बेहद महत्वपूर्ण साबित हुआ। जिलाधिकारी की अगुआई में स्वास्थ्य, शिक्षा, आईसीडीएस, जीविका, आशा कर्मियों ने अभियान को सफल बनाने में जमीनी स्तर पर कड़ी मेहनत की। इसका नतीजा रहा कि जिले में संचालित मेगा टीकाकरण अभियान अप्रत्याशित रूप से सफल साबित हुआ। इससे अभियान को सफल बनाने में जुटे कर्मियों का उत्साह व मनोबल ऊंचा हुआ है।