Mumkin hai India

  • Gallery

    लक्ष्य हासिल करने के लिए दृढ़ संकल्प, लगन के साथ सही दिशा में प्रयास बेहद जरूरी- दीपक आनंद

    2021-06-27

    "गुणवत्तापूर्ण शिक्षा में शिक्षण कौशल की भूमिका" विषयक राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन पटना I किसी भी लक्ष्य को हासिल करने के लिए दृढ़ संकल्प, लगन के साथ-साथ सही दिशा में प्रयास बेहद जरूरी है I यह किसी प्रतियोगी परीक्षा में ही नहीं, बल्कि जीवन की किसी भी परीक्षा में सफलता हासिल करने के लिए बेहद जरूरी है उपरोक्त बाते वरिष्ठ आईएएस अधिकारी और कला, संस्कृति एवं युवा विभाग के अपर सचिव-सह-बिहार संग्रहालय के निदेशक दीपक आनंद ने वर्चुअल माध्यम से आयोजित एक बेबिनार में छात्र-छात्राओं व शिक्षकों को संबोधन के दौरान कहीं। उन्होंने कहा कि विद्यालयों और महाविद्यालयों में पूर्णरूपेण गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित करके ही हम भारत को पुनः विश्व गुरु बनने के मार्ग पर ले जा सकते हैं I उन्होंने कहा कि नालंदा की धरती इस बात की गवाह है कि यहां सारी दुनिया के लोग शिक्षा ग्रहण करने आते थे I बताते चले कि कोविड संक्रमण काल में शिक्षा व्यवस्था काफी प्रभावित हुआ है जहां अध्यापक के साथ साथ छात्र छात्राओं को भी काफी बुरे दौर से गुजरना पड़ा है। इसी बीच शनिवार को वर्चुअल माध्यम से "नालंदा कॉलेज शिक्षाशास्त्र ( बीएड ) विभाग के तत्वावधान में "गुणवत्तापूर्ण शिक्षा में शिक्षण कौशल की भूमिका " विषय पर एक वेबिनार का आयोजन किया गया। जिसमे विभिन्न विभागों के अधिकारियों सहित अलग अलग शिक्षण संस्थानों से अध्यापक व छात्र छात्राएं शामिल होकर वेबिनार से लाभान्वित हुए। विशिष्ट वक्ता विनोबा भावे विश्वविद्यालय, हजारीबाग के एमएड विभागाध्यक्ष प्रो डॉ तनवीर यूनुस ने कहा कि शिक्षक अपने ज्ञान, कौशल व क्षमता का पूर्णरूपेण इस्तेमाल करके ही गुणवत्तापूर्ण शिक्षा में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर सकते हैं I मुख्य वक्ता विभागाध्यक्ष डॉ ध्रुव कुमार ने कहा कि शिक्षकों को अपने अध्यापन-कौशल से शिक्षार्थियों में सीखने की क्षमता में अपेक्षित संवर्धन कर कक्षा-कक्ष में आनंदमयी शैक्षिक वातावरण तैयार कर गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित करने में सहयोग करना होगा I अध्यक्षता करते हुए नालंदा कॉलेज के प्राचार्य डॉ रामकृष्ण परमहंस ने कहा कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को प्रभावी बनाने में शिक्षकों को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी I उन्होंने कहा कि आज हर क्षेत्र में गुणवत्ता की ही डिमांड है I वेबिनार में दर्शनशास्त्र विभाग के अध्यक्ष डॉ प्रभास कुमार, इतिहास विभाग के अध्यक्ष डॉ रत्नेश अमन, तुर्की टीचर ट्रेनिंग कॉलेज के एमएड विभागाध्यक्ष डॉ मनोज कुमार वर्मा, मुंगेर जिला अभिलेखागार पदाधिकारी डॉ जयशंकर प्रसाद, मनीष कुमार भारद्वाज, अशोक सिन्हा, डॉ राजेश कुमार, इशिता, संगीता कुमारी, पिंकी कुमारी, उषा कुमारी, प्रशांत सहित अनेक विद्वानों ने भी शिरकत की I वेबिनार में छात्र-छात्राओं ने भी उत्साहपूर्वक अपने विचार व्यक्त किए। इनमें दीक्षा सिन्हा, हर्षवर्धन कुमार, अनीशा गुप्ता, श्वेता भारती, पूजा कुमारी, मधुबाला कुमारी, श्वेता कुमारी, सुभाष कुमार, नंदनी भारती और राहुल कुमार आदि शामिल थे I अतिथियों का स्वागत डॉ रंजन कुमार ने किया जबकि संचालन अपर्णा कुमारी और धन्यवाद ज्ञापन कृति स्वराज ने किया I