Mumkin hai India

  • Gallery

    किशनगंज: टीकाकरण को लेकर जिला संचार टास्क फोर्स की बैठक आयोजित

    2021-06-12

    किशनगंज,12 जून: जिले में कोविड टीकाकरण अभियान जोर-शोर से चल रहा है। टीकाकरण अभियान को गति देने के लिए टीका एक्सप्रेस की शुरुआत की गयी है। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में अभी भी टीका के प्रति अफवाह व भ्रांतियां फैली हुई हैं। राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार के द्वारा जारी पत्र के आलोक में जिला स्तर पर जिला स्तरीय संचार टास्क फोर्स गठित की गयी है। जिले में कोविड टीकाकरण को लेकर व्याप्त भ्रांतियों, अफवाहों एवं दुष्प्रचार को समाप्त कर लोगों को स्वैच्छिक रूप से टीकाकरण हेतु प्रेरित करने के लिए शनिवार को जिला परिषद् के सभागार में जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश की अध्यक्षता में जिला संचार टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन किया गया। लाभार्थियों में टीकाकरण के प्रति व्याप्त भ्रांतियों का होना प्रमुख कारण है। अभियान के सफल संचालन के लिए इसका तत्क्षण निराकरण किया जाना अत्यंत आवश्यक है। बैठक में मुख्य रूप से कोविड संक्रमण से निजात पाने के तरीकों पर टास्क फोर्स के सदस्यों द्वारा विचार विमर्श किया गया। जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित इस टास्क फोर्स की बैठक में पुलिस अधीक्षक, सिविल सर्जन, अनुमंडल पदाधिकारी,  जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, जिला परियोजना पदाधिकारी (आईसीडीएस), जिला पंचायती राज पदाधिकारी, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्वास्थ्य के अलावा डब्ल्यूएचओ/यूनिसेफ/केयर इंडिया/सीफार के प्रतिनिधि के साथ धार्मिक संगठन के प्रतिनिधि आदि ने भाग लिया।

    भ्रांतियों को दूर कर शत-प्रतिशत लक्ष्य को किया जायेगा हासिल:
    जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने कहा जिले में 18 से 44 वर्ष व 45 या उससे अधिक उम्र के लोगों को टीका देने का काम चल रहा है, लेकिन अभी भी टीकाकरण के प्रति समाज में तरह-तरह की भ्रांतियां फैली हुई हैं। भ्रांतियों को जब तक दूर नहीं किया जाएगा तब तक शत प्रतिशत लक्ष्य को पूरा नहीं किया जा सकता है। उन्होंने बताया, ग्रामीण इलाक़ों में टीकाकरण केंद्रों का भ्रमण करने के दौरान समझ में आता है कि टीका को लेकर अभी भी लोगों के मन में कई शंका पनपती हैं। इसलिए सबसे जरूरी है कि ग्रामीण क्षेत्रों में फैलाई गई भ्रांतियों व अफवाहों को दूर किया जाए। जिससे टीकाकरण कार्य में तेज़ी आ सके।

    इमारत शरिया के माध्यम से संदेश प्रसारित करवाने की दी गई सलाह: 
    टास्क फोर्स की बैठक के दौरान मुस्लिम धर्मगुरुओं ने धार्मिक संस्थाओं यथा इमारत शरिया का इत्यादि के माध्यम से संदेश प्रसारित करवाने की सलाह दी, ताकि अधिक से अधिक लोग जागरूक होकर टीकाकरण के पक्ष में आ सकें और टीकाकरण करा सकें। बैठक में उपस्थित सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने जानकारी देते हुए बताया कि पल्स पोलियो के टीके का भी विरोध हुआ था, लेकिन आज इसका फायदा हमें दिख रहा है और देश पोलियो मुक्त हो गया है। इसी प्रकार कोरोना वैक्सीन भी पूर्णतः सुरक्षित है और उन्होंने खुद इसका टीका लिया है। संभावित कोरोना की तीसरी लहर से यह वैक्सीन ही हमें बचाएगी।

    टीका लेने के बाद सुरक्षित एवं अपने कार्यों का आमदिनों की तरह निर्वहन करने वाले सरकारी कर्मियों, डाॅक्टर, शिक्षक, जीविका दीदियों एवं आंगनबाड़ी वर्कर्स का डाटा होगा जारी: 
    जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित सदस्यों को भ्रांतियों के खंडन के क्रम में बताया कि बहुत से लोगों में टीका लगाने से बुखार हो सकता है, लेकिन इससे व्यक्ति के शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है। जिलाधिकारी द्वारा शीघ्र ही इसका डाटा जारी करने की बात कही गई कि जिले में कितने सरकारी कर्मियों, डॉक्टरों, पुलिस कर्मियों, शिक्षकों, आंगनबाडी सेविकाओं, जीविका दीदियों इत्यादि को टीके की खुराक दी गई है, ताकि लोगों को ज्ञात हो सके कि टीका लेने वाले सभी लोग सुरक्षित होकर काम कर रहे हैं। 

    हज पर जाने वालों के लिए टीके की दोनों खुराक आवश्यक:
    मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा कि हज पर जाने वालों के लिए टीके की दोनों खुराक आवश्यक है। अजान के समय मस्जिदों से टीके के संबंध में माइकिंग कराने पर सकारात्मक परिणाम आ सकते हैं। इस संबंध में प्रखंड स्तर पर भी धर्म गुरुओं की बैठक कराने का उन्होंने सुझाव दिया। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि यह स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि टीका कितना जरूरी है।

    अभियान को सफल बनाना हम सबकी जिम्म्दारी: 
    जिला पुलिस अधीक्षक कुमार अशीष ने कहा कि टीकाकरण अभियान को सफल बनाना हम सबकी जिम्म्दारी तथा कार्य के लिए सिविल सोसाइटी के लोगों, वॉलिंटियर्स, डॉक्टरों एवं सरकारी कर्मियों का योगदान भी अहम् है। इस समय बेहतरीन ढंग से मानवता की सेवा करने से आत्म संतुष्टि भी होगी। साथ ही जिला उप विकास आयुक्त मनन राम ने कहा कि टीकाकरण अभियान को सफल बनाना जिलेवासियों का भी कर्तव्य है। ताकि टीका लेकर हम स्वयं को तो सुरक्षित कर ही सकें साथ ही साथ अपने परिवार व समाज को भी संक्रमण प्रसार से बचा सकें। इसके लिए सरकार के साथ साथ प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग भी निरंतर प्रयास कर रहा है। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से बचाव के लिए नियमित रूप से आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये जा रहे हैं। कोविड-19 संक्रमण से सुरक्षा प्रदान करने के लिए जिले में व्यापक स्तर पर टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है।