Mumkin hai India

  • Gallery

    45 वर्ष से ऊपर वाले का टीकाकरण बढ़ाने को लेकर जिलाधिकारी ने की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक

    2021-05-26

    पूर्णिया, 26 मई: वैश्विक महामारी कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान चल रहा है। वर्तमान में 18 से 44 वर्ष तक के व्यक्तियों का भी टीकाकरण किया जा रहा है। वहीं 45 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के व्यक्तियों को कोविड 19 टीकाकरण के लिए भारत सरकार द्वारा निःशुल्क वैक्सीन उपलब्ध करायी जा रही है। बुधवार को  जिलाधिकारी राहुल कुमार द्वारा 45 वर्ष से ऊपर वाले व्यक्तियों के लिए टीकाकरण बढ़ाने को लेकर समाहरणालय सभागार में ज़िले के वरीय अधिकारियों एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया है । इस अवसर पर डीडीसी मनोज कुमार, वरीय अपर समाहर्ता तारिक इक़बाल अहमद, सिविल सर्जन डॉ एसके वर्मा, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ सुरेंद्र दास सहित कई अन्य अधिकारी मौजूद थे। बैठक में बताया गया भारत सरकार द्वारा निर्देशित है कि 45 वर्ष या इससे अधिक उम्र के लाभार्थियों के लिए उपलब्ध आवंटन के 70% वैक्सीन का उपयोग प्राथमिकता के आधार पर द्वितीय खुराक के लाभार्थियों के टीकाकरण में किया जाय। इसके साथ ही शेष 30% वैक्सीन का उपयोग प्रथम खुराक के लाभार्थियों के लिए किया जाय। सरकार द्वारा 45 वर्ष या इससे अधिक उम्र के लाभार्थियों के लिए उपलब्ध करायी गयी वैक्सीन का उपयोग 70:30 अनुपात का अनुपालन नहीं किये जाने तथा अधिक बर्बाद होने पर वैक्सीन के आवंटन में कटौती की जा सकती है । 

    टीकाकरण में तेज़ी लाने को प्रतिदिन शाम की समीक्षा बैठक में बिन्दुवार की जाती हैं चर्चा : जिलाधिकारी

    ज़िले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग एवं आईसीडीएस के अधिकारी व कर्मी पूरी तरह से अलर्ट मोड में हैं । कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए हर तरह के आवश्यक कदम भी उठाये जा रहे हैं। लेकिन संक्रमण पर रोकथाम तभी संभव है, जब हम सभी संयम के साथ सावधानी पूर्वक सतर्क रहते हुए स्वास्थ्य विभाग का सहयोग करेंगे।
    कोरोना से लड़ने व सुरक्षित रहने के लिए व्यापक स्तर पर सभी सत्र स्थलों पर टीकाकरण कार्य किया जा रहा है। इसमें तेजी लाने के लिए प्रतिदिन शाम को समीक्षा बैठक के दौरान हर एक बिंदू  पर गहन विचार किया जाता है। 18 वर्ष से लेकर 44 वर्ष तक के लोगों के लिए 14 प्रखंडों के मिडिल एवं उच्च विद्यालयों में टीकाकरण केंद्र बनाया गया है  । जबकिं 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों में अपने नियत समय पर टीका लगाया जा रहा है। 
    प्रतिदिन सभी सत्र स्थलों को दिया जाता हैं टीकाकरण के लिए लक्ष्य: डीएम
    45 वर्ष से ऊपर वालें व्यक्तियों के लिए सबसे ज़्यादा पूर्णिया पूर्व पीएचसी को 2240 टीकाकरण कराने का लक्ष्य दिया गया है|किं बनमनखी को 1 हजार, वहीं बड़हरा कोठी, धमदाहा व रुपौली पीएचसी को 800-800 टीकाकरण कराने के लिए लक्षित किया गया है । भवानीपुर व के नगर पीएचसी को 700-700, अमौर, डगरुआ, कसबा पीएचसी के जिम्मे 600-600 टीकाकरण कराने के लिए लक्ष्य दिया गया है । वहीं बैसा, बायसी, जलालगढ़ व श्रीनगर पीएचसी को 500-500 टीके लगाने के लिए लक्ष्य दिया गया है । हालांकि प्रतिदिन इस तरह से जिले के अभी सत्र स्थलों को लक्ष्य दिया जाता है  ताकि समय से टीकाकरण कार्य पूरा किया जा सके ।जिलाधिकारी द्वारा आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जिले के सभी बीडीओ, चिकित्सा पदाधिकारी, सीडीपीओ, बीसीएम, बीएचएम सहित सभी अधिकारियों को प्रखंड स्तर पर कोरोना जांच व टीकाकरण को लेकर समीक्षा के दौरान शत प्रतिशत लक्ष्य को पूरा करने के लिए आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी सेविकाओं सहित अन्य कर्मियों का सहयोग लेने की बात कही गई है हैं।