Mumkin hai India

  • Gallery

    पहली डोज के बाद कोविशील्ड की दूसरी डोज के लिए मिलेगा 12 से 16 सप्ताह का समय

    2021-05-17

    कटिहार, 17 मई :कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सरकार द्वारा उपलब्ध करायी गयी वैक्सीन के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ रही है। लोगों द्वारा टीकाकरण के लिए अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवाते हुए नजदीकी टीकाकरण स्थल पर टीका लगवाया जा रहा है। सरकार द्वारा लगवायी जा रही कोविड-19 वैक्सीन की दो डोज लिया जाना जरूरी है । जिसके बीच सरकार व वैक्सीन एक्सपर्ट टीम द्वारा निर्धारित समय सीमा तय किया गया है। एक्सपर्ट टीम द्वारा वैज्ञानिक साक्ष्य के आधार पर वैक्सीन कोविशील्ड की दूसरो डोज की समय अंतराल में बदलाव किया गया है। अब लोगों को कोविशील्ड की दूसरी डोज 12 से 16 सप्ताह के बीच लगायी जाएगी। कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए लगाया जा रहा दूसरा टीका कोवैक्सीन की दूसरी डोज पूर्व की तरह 4 सप्ताह के अंतराल पर ली जा सकती है।

    कोविड की राष्ट्रीय कार्यरत टीम द्वारा लिया गया है फैसला :
    कोविड की राष्ट्रीय कार्यरत टीम द नेशनल टेक्नीकल एडवाइजरी ग्रुप ऑफ इम्युनाइजेशन (एनटीएजीआई) एवं नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑफ वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड-19 द्वारा हुई बैठक में वैज्ञानिक साक्ष्यों के आधार पर कोविड-19 वैक्सीन कोविशील्ड की दोनों डोज के समय अंतराल में बदलाव की गयी । अब लोगों को कोविशील्ड के पहले डोज लेने के बाद 12 से 16 सप्ताह के बीच दूसरी डोज लगायी जाएगी। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा इस बदलाव को स्वीकृति देते हुए सभी राज्यों में इसे लागू करने का निर्देश जारी किया गया है। कोविड-19 से बचाव के लिए लोगों को लगाया जा रहा दूसरा टीका कोवैक्सीन की दोनों डोज पूर्व की भांति 4 सप्ताह के अंतराल पर लगायी जा सकती है।

    कोविड-19 टीकाकरण को लेकर लोगों में बढ़ी जागरूकता :

    जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. डी. एन. झा ने बताया लोगों में कोविड-19 से बचाव के लिए किए जा रहे टीकाकरण के प्रति जागरूकता बढ़ी है। अब लोग स्वयं अपना पंजीकरण सरकार द्वारा दिए गए वेबसाइट https://selfregistration.cowin.gov.in/ पर करते हुए तय समय में अपने नजदीकी टीकाकरण स्थल पर जाकर टीका का दोनों डोज लगा रहे हैं। टीकाकरण स्थल पर कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया जा रहा है। सभी टीकाकरण स्थल पर लोगों के लिए प्रतीक्षा स्थल, टीकाकरण केंद्र के साथ ही टीकाकरण पश्चात आधे घंटे तक चिकित्सक की निगरानी में रहने हेतु ऑब्जर्वेशन स्थल उपलब्ध है। टीका के लिए कतारबद्ध लोगों के बीच 2 गज की दूरी के साथ ही पूरी तरह मास्कबद्ध होने का ध्यान रखा जाता है। टीकाकरण के बाद भी स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा लोगों को संक्रमण से बचाव के लिए जरूरी जानकारी दी जाती है जिससे संक्रमण की स्थिति को नियंत्रित किया जा सके।

    1.5 लाख से अधिक लोगों को लगाया जा चुका है कोविड-19 का टीका :

    डॉ. डी. एन. झा ने बताया जिले में अब तक 1 लाख 87 हजार लोगों द्वारा कोविड-19 का टीका लिया जा चुका है जिसमें 1 लाख 48 हजार 521 लोगों द्वारा पहला डोज जबकि 38 हजार 479 लोगों द्वारा दोनों डोज का टीका लगाया जा चुका है। जिले के सदर अस्पताल के साथ सदर प्रखंड व शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र फासिया में 18 से 44 वर्ष के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है जबकि 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को सभी स्वास्थ्य केंद्रों में टीका लगाया जा रहा है। डॉ. झा ने बताया कि वैक्सीन की उपलब्धता के अनुसार जिले में कोविड-19 टीकाकरण हेतु विशेष कैम्प का भी आयोजन किया जा रहा है।