Mumkin hai India

  • Gallery

    कोरोना संक्रमण से निबटने को एकजुटता के साथ संयम एवं सावधानी पूर्वक रहने की है जरूरत

    2021-05-12

    पूर्णिया, 12 मई:ज़िले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से अलर्ट मोड में है। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए हर तरह के आवश्यक कदम भी उठाये जा रहे हैं। लेकिन संक्रमण पर रोकथाम तभी संभव है, जब हम सभी संयम के साथ सावधान पूर्वक सतर्क रहकर स्वास्थ्य विभाग का सहयोग करेंगे। कोरोना संक्रमण को देखते हुए हर किसी को एक बार फिर से विगत वर्ष की तरह संयम एवं सावधानी पूर्वक रहते हुए ताकत दिखाने की जरूरत है। क्योंकि विगत वर्ष भी हम इसी ताकत के साथ एकजुटता का परिचय देते हुए इस वैश्विक महामारी के संक्रमण पर काबू पाने में काफी हद तक सफल रहे थे। कोरोना से लड़ने व सुरक्षित रहने के लिए व्यापक स्तर पर सभी सत्र स्थलों पर टीकाकरण कार्य किया जा रहा है। इसमें तेजी लाने के लिए प्रतिदिन शाम को समीक्षा बैठक के दौरान हर एक बिन्दु पर गहन विचार किया जाता है। 18 वर्ष से लेकर 44 वर्ष तक के लोगों के लिए 14 प्रखंडों के मिडिल एवं उच्च विद्यालयों में टीकाकरण केंद्र बनाया गया हैं। जबकिं 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों में टीका लगाया जा रहा है।


    -विभाग के अधिकारियों एवं कर्मियों को सतर्कता बढ़ाने को लेकर दिया गया है आवश्यक दिशा-निर्देश: सिविल सर्जन
    सिविल सर्जन डॉ एसके वर्मा ने बताया देश के विभिन्न राज्यों में कोविड-19 के बढते मामलो ने स्वास्थ्य विभाग को पहले से ज्यादा सतर्क रहने को विवश कर दिया है। ऐसे में बढ़ते कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए हम सभी को पूर्व की तरह बचाव से संबंधित कोविड गाइड लाइन का पालन करना बहुत जरूरी हो गया है। बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए जिलेवासियों से अपील करते हुए डीपीएम ने कहा विगत वर्ष की तरह एक फिर से कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए आगे आने की जरूरत है। कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने जिले के सभी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों एवं कर्मियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करते हुए सतर्कता बढ़ाने की बात कही है। वहीं, कोविड-19 जांच एवं टीकाकरण अभियान को लेकर समीक्षा बैठक के दौरान हर समय कहा जाता हैं कि वैश्विक महामारी से निबटने के लिए टीकाकरण कार्य में तेजी लाने की जरूरत है। हालांकि कोरोना जांच एवं टीकाकरण सत्र स्थलों पर सामाजिक दूरी का पालन करते हुए मास्क व सैनिटाइजर का प्रयोग करते रहना है।


    -18 वर्ष से 44 वर्ष तक के सभी अभ्यर्थी अपने नजदीकी केंद्र पर करा सकते हैं टीकाकरण: डीपीएम
    ज़िला स्वास्थ्य समिति के डीपीएम ब्रजेश कुमार सिंह ने बताया ज़िले के सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को 18 वर्ष से लेकर 44 वर्ष तक के अभ्यर्थियों को टीकाकरण कराने के लिए अलग-अलग लक्ष्य दिया गया है। जिसके तहत बनमनखी के सुमरीत उच्च विद्यालय को 250 लोगों का टीकाकरण के लिए लक्ष्य दिया गया है, वहीं बायसी प्रखंड मुख्यालय स्थित मिडिल स्कूल को 250, अमौर प्रखंड मुख्यालय स्थित आर्दश मध्य विद्यालय को 150, बैसा प्रखंड के रौटा गांव स्थित मिडिल स्कूल को 250, कसबा प्रखंड के विशनपुर गांव स्थित मीडिल स्कूल को 250, भवानीपुर प्रखंड मुख्यालय स्थित बालदेव उच्च विद्यालय को 250, बड़हरा कोठी मुख्यालय स्थित आर्दश मध्य विद्यालय को 250, उच्च विद्यालय श्रीनगर को 250, कृत्यानगर प्रखंड कॉलोनी स्थित आदर्श मध्य विद्यालय को 250, धमदाहा प्रखंड मुख्यालय स्थित मध्य विद्यालय को 250, आदर्श मध्य विद्यालय जलालगढ़ को 150, रुपौली स्थित आदर्श मध्य विद्यालय को 150, पूर्णिया पूर्व प्रखंड मुख्यालय स्थित आदर्श मध्य विद्यालय को 250 लक्ष्य रखा गया हैं। जबकिं पूर्णिया शहरी क्षेत्र के शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र माधोपारा को 250, गुलाबबाग को 250, मधुबनी को 250, पूर्णिया सिटी को 250, पूर्णिया कोर्ट को 250 एवं माता चौक को 250 टीकाकरण कराने के लिए लक्ष्य दिया गया है।