Mumkin hai India

  • Gallery

    वैक्सीनेशन अभियान में युवा बढ़-चढ़ कर ले रहे हिस्सा -टीकाकरण का स्थल बदला गया

    2021-05-11

    किशनगंज, 11 मई: जिला में संक्रमण को हराने के लिए वैक्सीनेशन अभियान में युवा बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं। पहले व दूसरे दिन विभिन्न सत्र स्थलों पर युवाओं की भीड़ देखी गयी। रविवार को प्रथम दिन 18 से 44 साल से उम्र के 194 एवं दूसरे दिन 828 लोगो ने कोरोना से बचाव को लेकर टीका लिया। इस प्रकार इस केटोगरी में 78 प्रतिशत लोगों को टीकाकृत किया गया। विभिन्न सत्र स्थलों पर विभाग ने 8920 लोगों को वैक्सीनेशन करने का लक्ष्य रखा है। विभाग की ओर से 7 पीएचसी सहित छतरगाछ अनुमंडल व सदर अस्पताल केन्द्रों पर लाभार्थियों को टीका दिया गया। सभी पीएचसी एवं अनुमंडल अस्पताल छतरगाछ में 100-100 लोगों को टीका देने का लक्ष्य रखा था। वहीं सदर अस्पताल पर दो- दो सौ लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा था। 

    टीकाकरण का स्थल बदला गया: 
    सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने कहा कि 18 वर्ष से 44 वर्ष वालों का टीकाकरण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के समीप तथा 45 से ऊपर वालों के लिए पंचायत में शिविर लगाकर टीकाकरण कराया जाए। इसी तर्ज पर सदर अस्पताल किशनगंज के जगह आंबेडकर टाउन हॉल , सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बहादुरगंज के जगह रसल हाई स्कूल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दिघलबैंक के जगह अस्पताल बैठक हॉल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोचाधामन के जगह मध्य विद्यालय कोचाधामन, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पोठिया के जगह बी आर सी भवन पोठिया, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तेधागाछ के जगह विवाह भवन टेढ़ागाछ, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ठाकुरगंज के जगह बॉयज हाई स्कूल ठाकुरगंज में किया जायेगा।

    टीकाकरण को ले करें जागरूक:
    सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने कहा की सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को टीकाकरण के सफल कार्यान्वयन को लेकर कार्य योजना बना लेने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा 45 वर्ष से ऊपर वालों के टीकाकरण के लिए मुखिया तथा प्रखण्ड विकास पदाधिकारी के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जाए। कोरोना महामारी से बचाव व सुरक्षा के लिए टीकाकरण निहायत जरूरी है। इसके लिये गांवों में एक अभियान चलाये जाने की जरूरत है। लोगों को जीवन रक्षा के लिये टीकाकरण कराने को लेकर जागृति जरूरी है। इस प्रकार हम टीकाकरण अभियान में तेजी ला सकते हैं। डीआओ ने बताया टीकाकरण को लेकर लोगों में जागरूकता आयी है। अब पहले की अपेक्षा अधिक लोग वैक्सीन लेने पहुंच रहे हैं। उन्होंने कहा केंद्र के समीप रहने वाले लोगों की सुविधा के लिए यहां टीकाकरण केंद्र बनाया गया है। उन्होंने दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तहत 18 से 44 वर्ष की आयु वर्ग के लोगों को तीसरे चरण में कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए टीकाकृत किये जाने की जानकारी देते हुए कहा कि यह महाअभियान अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर है। उन्होंने  जरूरत के अनुसार और टीकाकरण केंद्र की शुरुआत किये जाने की जानकारी देते हुए कहा कि सम्बंधित उम्र के लोगों को वैक्सीनेशन के लिए हर संभव सुविधा मुहैया कराना उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है। सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को टीका लेने आए लोगों को हर संभव सुविधा मुहैया कराए जाने का निर्देश देते हुए कहा कि अवलोकन कक्ष के साथ प्रतीक्षा कक्ष को सुव्यवस्थित रखें ताकि लाभार्थियों को अतिरिक्त कठिनाइयां ना हों। इसी क्रम में भीड़ के अनुसार निबंधन काउंटर की संख्या में वृद्धि किये जाने का निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम और इससे बचाव के लिए हर नागरिक सम्बंधित टीका लें और भारत को स्वस्थ एवं उन्नत देश बनाने में अग्रणी भूमिका निभाएं। 

    नगर परिषद, किशनगंज क्षेत्र में हैं सबसे ज्यादा संक्रमित व्यक्ति: 
    नगर परिषद क्षेत्र, किशनगंज में 772 पॉजिटिव मरीज एक्टिव है। किशनगंज  ग्रामीण क्षेत्र में 52, दिघलबैंक में 64, ठाकुरगंज  में 47, बहादुरगंज में 94, पोठिया में 40, कोचाधामन में 107 तथा प्रवासी 105 व्यक्ति संक्रमित व्यक्ति है। इन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत है। वही जिले में कुल 126 कन्टेनमेंट जोन बनाये गये हैं। जिसमें से किशनगंज शहरी क्षेत्र में 91, बहादुरगंज में 16, किशनगंज ग्रामीण 07, कोचाधामन 7, ठाकुरगंज 05 माइक्रो कंटेनमेंट जोन सक्रिय है। जिले के कुल 81621 व्यक्तियों का प्रथम डोज़ एवं 26486 व्यक्तियों को दूसरा डोज़ टीकाकरण  किया गया है वही अब तक कुल 4.21 लाख लोगों की कोरोना जांच हो सकी है। इसमें 7533 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है तो 6179 लोग संक्रमण से जुड़ी चुनौती को मात देकर पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। जिले में संक्रमण की दर 1.8 है तो वही रिकवरी दर 82.0 के करीब है। संक्रमण के प्रसार की संभावना बनी हुई है। लिहाजा जिला स्वास्थ्य विभाग ने सभी संबंधित स्वास्थ्य संस्थानों को अलर्ट किया है।