Mumkin hai India

  • Gallery

    18 से 44 वर्ष तक के लोगों के लिए उच्च विद्यालयों को बनाया जाएगा कोविड-19 टीकाकरण सत्र स्थल

    2021-05-11

    पूर्णिया, 11 मई: कोविड-19 संक्रमण को लेकर लगातार ज़िले के विभिन्न अस्पतालों का निरीक्षण कर कोरोना टीकाकरण में तेज़ी लाने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए जा रहे हैं। कोरोना से लड़ने व सुरक्षित रहने के लिए व्यापक स्तर पर टीकाकरण किया जा रहा है। इसमें तेजी लाने के लिए समाहरणालय सभागार में जिलाधिकारी राहुल कुमार की अध्यक्षता में हुई विशेष बैठक में 18 वर्ष से लेकर 44 वर्ष तक के लोगों के लिए 14 प्रखंडों के उच्च विद्यालयों में टीकाकरण केंद्र बनाने का फैसला लिया गया हैं। जबकिं 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों में टीका लगाया जा रहा है । हालांकि स्वास्थ्य विभाग हर समय अलर्ट मोड़ पर रहते हुए कोरोना जांच एवं टीकाकरण कार्य सुचारू रूप से कर रहा है। कोरोना के नये स्ट्रेन से संक्रमितों की संख्या ज़िले में धीरे-धीरे बढ़ने लगी है। डीएम द्वारा टीकाकरण अभियान में अधिक तेज़ी लाने का प्रस्ताव टीकाकरण केंद्रों को दिया जा रहा है। ज़िले के 71 टीकाकरण केंद्रों पर 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकरण निश्चित रूप से कराने के लिए विशेष कैम्प का आयोजन किया गया है। जिसमें 13 हज़ार लोगों को टीका लगाए जाने का लक्ष्य दिया गया है। टीकाकरण अभियान को लेकर जिले के सभी अनुमंडलीय, रेफ़रल, प्राथमिक, अतिरिक्त एवं शहरी स्वास्थ्य केंद्रों के लिए अलग से आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किया गया है। इस बैठक के दौरान जिलाधिकारी राहुल कुमार, प्रशिक्षु आईएएस निशांत विवेक, डीडीसी मनोज कुमार, वरीय अपर समाहर्ता तारिक़ इकबाल अहमद, सिविल सर्जन डॉ एसके वर्मा, डीआईओ डॉ सुरेंद्र दास, डीपीएम ब्रजेश कुमार सिंह सहित कई अन्य अधिकारी मौजूद थे।

    -टीकाकरण में तेजी लाने के लिए टीकाकृत व्यक्तियों को चेन बनाने की जरूरत: जिलाधिकारी
    जिलाधिकारी राहुल कुमार ने बताया राज्य सरकार द्वारा दिए गए आवश्यक दिशा-निर्देश के आलोक में 45 वर्ष से ऊपर के सभी व्यक्तियों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र या कोविड टीकाकरण केंद्रों पर जाकर अपना टीकाकरण आवश्यक रूप से करा लेना चाहिए। जिससे कोरोना संक्रमण काल में अपना व अपने परिवार की सुरक्षा खुद कर सकें। टीकाकरण केंद्र पर सिर्फ अपना आधार कार्ड दिखाकर कोरोना का टीका ले सकते हैं। वैश्विक महामारी से बचाव को लेकर सभी के लिए कोविड-19 का टीका बहुत ही ज़्यादा जरूरी है। जिलेवासियों से अपील करते हुए जिलाधिकारी ने कहा अधिक से अधिक संख्या में बढ़ चढ़ कर टीकाकरण में हिसा लें। जिले के सभी अनुमंडलीय अस्पताल, रेफ़रल अस्पताल, सामुदायिक, प्राथमिक एवं अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सहित सदर अस्पताल में भी टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं । जिलाधिकारी ने कहा टीकाकरण केंद्रों पर आने वाले सभी लाभार्थियों को सबसे पहले अपना पंजीकरण कराना होगा। उसके बाद टीकाकरण अवश्य करवाना नहीं भूले। स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों को निर्देश देते हुए डीएम ने कहा जिन लोगों को पंजीकरण करने में कठिनाई हो रही है तो केंद्र पर प्रतिनियुक्त स्वास्थ्य कर्मी पंजीकृत करने में सहयोग करेंगे। टीकाकरण कार्य में तेजी लाने के लिए जिलेवासियों को एक चेन बनाने की जरूरत है। जिसके तहत एक टीकाकृत व्यक्ति अपने पड़ोसियों को टीके लगाने के लिए प्रेरित करेंगे ताकि एक भी व्यक्ति कोरोना टीकाकरण से वंचित नहीं रह सके ।

    -विशेष टीकाकरण अभियान में 44 वर्ष से ऊपर के सभी लोग अनिवार्य रूप से कराएं टीकाकरण: सीएस
    सिविल सर्जन डॉ एसके वर्मा ने बताया जिले के सभी 14 प्रखंडों में बनाये गए 71 टीकाकरण केंद्र के माध्यम से लगभग 13 हजार व्यक्तियों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। जिसमें 500 सौ लक्ष्य वाले पीएचसी में श्रीनगर एवं बायसी हैं तो 600 सौ वाले लक्ष्य की सूची में अमौर, बैसा एवं जलालगढ़ हैं। इसी तरह 800 सौ वालों में कृत्या नगर, कसबा, डगरुआ, भवानीपुर हैं। 900 सौ व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए रुपौली, जबकि  धमदाहा एवं बड़हरा कोठी टीकाकरण केंद्र को एक-एक हजार, वहीं बनमनखी को 11 सौ लोगों को टीकाकरण के लिए लक्ष्य दिया गया है तो सबसे ज़्यादा पूर्णिया पूर्व को 3 हजार लोगों को टीकाकृत करने के लिए लक्षित किया गया है। कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर सभी जांच एवं टीकाकरण केंद्रों पर मास्क पहनना, सामाजिक दूरी अपनाने के अलावा अपने हाथों को हर आधे घंटे पर रगड़-रगड़ कर सफाई करने के लिए कहा जा रहा है  ताकि संक्रमण काल से लड़ने में हम सभी पूरी तरह से सक्षम हो सकें। इसके साथ ही टीकाकरण केंद्रों पर  अलग से लाइन लगाने की व्यवस्था की गई है ।

    -सबसे ज़्यादा पूर्णिया शहरी क्षेत्रों में दिया गया है लक्ष्य: सीएस 
    सिविल सर्जन डॉ एसके वर्मा ने बताया पूर्णिया पूर्व पीएचसी के रानीपतरा, महेन्द्रपुर, हरदा, बरहरी एवं दीवानगंज स्थित अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को टीकाकरण केंद्र बनाया गया है। शहरी स्वास्थ्य केंद्र गुलाबबाग, माधोपारा, मधुबनी, माता चौक, पूर्णिया सिटी एवं पूर्णिया कोर्ट को 45 वर्ष से ऊपर वालों के लिए टीकाकरण केंद्र बनाया गया है। हालांकि सदर अस्पताल परिसर स्थित सत्र स्थल सहित जिले के सभी टीकाकरण केंद्रों को प्रतिदिन अलग-अलग लक्ष्य निर्धारित कर दिया जाता है। टीकाकरण केंद्र पर आने वाले सभी लाभार्थियों को पहले ही बताया जा चुका कि केंद्र पर आने से पहले अपने चेहरे को पूरी तरह से ढंक कर ही आना है। इसके साथ ही अपने हाथों को समय-समय पर सैनिटाइजर से धोते रहना है और सामाजिक दूरी का ख्याल हमेशा रखना होगा।