लखनऊ: राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई, महर्षि सूचना प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, लखनऊ, राष्ट्रीय सेवा योजना "/> 

Mumkin hai India

  • Gallery

    लखनऊ: स्वास्थ्य एवं योग शिविर के 20वें दिन "ऑनलाइन शिक्षा- चुनौती एवं अवसर" विषय पर हुई चर्चा

    2021-05-08

    लखनऊ: राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई, महर्षि सूचना प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, लखनऊ, राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, क्षेत्रीय केंद्र, लखनऊ एवं मुख्यमंत्री जन कल्याणकारी प्र‌‌चार-प्रसार योजना (योग एवं चिकित्सा प्रकोष्ठ), उत्तर प्रदेश के संयुक्त तत्वाधान में चल रहे २१ दिवसीय ऑनलाइन विशेष स्वास्थ्य एवं योग शिविर के  मुख्य अतिथि एवं मुख्य वक्ता श्री अशोक कुमार ठाकुर, शिक्षाविद् एवं मोटिवेशनल स्पीकर ने २० वें दिन के सायं कालीन सत्र में  कहा कि कोविड के इस वैश्विक चुनौती में ऑनलाइन शिक्षा पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। "ऑनलाइन शिक्षा- चुनौती एवं अवसर" विषय पर अपने विचारों को रखते हुए कहा कि ऑनलाइन शिक्षा में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देना होगा। ऑनलाइन शिक्षा को ज्ञान आधारित अर्थव्यवस्था में एक बहुत बड़े अवसर के रूप में स्वीकार करते हुए इसके साथ आगे बढ़ना होगा। बेबिनार के विशिष्ट अतिथि प्रो. हिमांशु शेखर सिंह, समन्वयक, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, अध्ययन केन्द्र, डॉ राममनोहर लोहिया विश्वविद्यालय, अयोध्या ने शिक्षा प्रणाली में प्राचीन काल से वर्तमान समय तक हुए काल क्रम के अनुसार विविध विकासों का बहुत ही रोचक ढंग से प्रस्तुतीकरण किया एवं ऑनलाइन शिक्षा को वर्तमान समय की नितान्त आवश्यकता बताया।  बेबिनार के मुख्य संयोजक डॉ कीर्ति विक्रम सिंह, सहायक क्षेत्रीय निदेशक, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, क्षेत्रीय केंद्र, लखनऊ ने ऑनलाइन शिक्षा में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, क्षेत्रीय केंद्र, लखनऊ की भूमिका पर भी प्रकाश डाला। श्री सपन अस्थाना, संयोजक सचिव एवं अधिष्ठाता (शैक्षणिक), महर्षि सूचना प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, लखनऊ ने सभी प्रतिभागियों को २१ दिवसीय बेबिनार में प्रतिभाग करने हेतु आभार व्यक्त किया। आस्ट्रेलिया से कृतिका जैन ने प्रतिभाग किया एवं इस बेबिनार की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह कोविड के संकट की घड़ी में बहुत सहायक है। कार्यक्रम के अंत में डॉ उपेन्द्र कुमार सिंह, कार्यक्रम समन्वयक, रज्जू भैया राज्य विश्वविद्यालय, प्रयागराज ने सभी का आभार एवं धन्यवाद व्यक्त किया। इस अवसर पर श्री अंकित श्रीवास्तव, श्रीमती दीपा श्रीवास्तव, पदमा सिंह, अभिषेक कुमार सिंह, दीपक तिवारी सहित लगभग १५० प्रतिभागी ऑनलाइन उपस्थित थे