Mumkin hai India

  • Gallery

    किशनगंज: जिले में 05 से 15 मई तक पूर्णतः लॉक डाउन

    2021-05-04

    कोरोना टीकाकरण के प्रति लोगों में जागरूकता लाने में मीडिया की अहम भूमिका जिले में 264 बेड डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर व 220 बेड का कोविड केयर सेंटर संचालित किशनगंज, 04 मई। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार के बीच किशनगंज जिला सहित पूरे प्रदेश में 05 मई से 15 मई तक लॉकडाउन लगा दिया गया है। जिले में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 1000 के पार हो चुकी है। अब तक जिले में 6493 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। इनमें से 5394 लोग ठीक हो चुके हैं। जिले में अब तक कोरोना से 21 लोगों की मौत हुई है। रिकवरी रेट 83.1 है, जबकि पॉजिटिविटी रेट 1.6 है। उक्त जानकारी जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने मंगलवार को समाहरणालय के सभागार में कोविड संक्रमण पर आयोजित मीडिया ब्रीफिंग के दौरान दी। जिला पदाधिकारी ने कहा कोरोना संक्रमण काल में मीडिया ने लोगों को जागरूक करने में अहम भूमिका अदा की है। उन्होंने लोगों से टीकाकरण के प्रति फैल रही अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की। उन्होंने मीडिया कर्मियों को पूर्व में भी संक्रमण काल में लोगों तक सही जानकारी पहुँचाने के लिए धन्यवाद देते हुए टीकाकरण काल के दौरान भी उसी प्रकार के सहयोग की अपेक्षा की। बताया लगातार बढ़ते संक्रमण पर रोकथाम के लिए जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह अलर्ट मोड में है। हर हाल में बढ़ते संक्रमण पर विराम लगे, इसके मद्देनजर कोविड 19 नियंत्रण व अनुश्रवन के लिए जिला स्तर कोषांग का गठन एवं आवश्यक गाइडलाइन भी जारी किये जा चुके हैं। सामाजिक सहयोग भी बेहद जरूरी: जिला पदाधिकारी ने बताया, बढ़ते संक्रमण पर रोकथाम के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग हर आवश्यक कदम उठा रहा है। इसको लेकर प्रतिदिन आवश्यकतानुसार जरूरी निर्णय भी लिए जा रहे हैं। किन्तु, इस वैश्विक महामारी के बढ़ते प्रभाव पर विराम लगाने के लिए सामाजिक सहयोग भी बेहद जरूरी है। मैं जिले वासियों से अपील करता हूं सभी लोग जारी गाइडलाइन का पालन करें और इस वैश्विक महामारी के खिलाफ लडाई में सकारात्मक सहयोग करें। तभी हम इसपर काबू पा सकते हैं और इसे मात देने में सफल हो सकते हैं। जिले के कुल 78651 व्यक्तियों का प्रथम डोज़ एवं 22696 व्यक्तियों को दूसरा डोज़ का किया गया हैं टीकाकरण: जिला पदाधिकारी ने कहा सबसे ज्यादा संक्रमण प्रभावित मरीज नगर परिषद, किशनगंज क्षेत्र का है। नगर परिषद क्षेत्र, किशनगंज में 677 मरीज एक्टिव हैं। किशनगंज ग्रामीण क्षेत्र में 17, दिघलबैंक में 70, ठाकुरगंज में 46, बहादुरगंज में 49, पोठिया में 29, कोचाधामन में 98 तथा प्रवासी 66 व्यक्ति संक्रमित व्यक्ति हैं। इन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत है। जिले में कुल 54 कन्टेनमेंट जोन बनाये गये हैं। जिले के कुल 78651 व्यक्तियों का प्रथम डोज़ एवं 22696 व्यक्तियों को दूसरा डोज़ टीकाकरण किया गया है। अब तक कुल 4.07 लाख लोगों की कोरोना जांच हो सकी है। संक्रमण के प्रसार की संभावना बनी हुई है। लिहाजा जिला स्वास्थ्य विभाग ने सभी संबंधित स्वास्थ्य संस्थानों को अलर्ट किया है। साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन जरूरी: जिलाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने बताया सेंटर में भर्ती मरीजों के लिए भोजन दिशा निर्देश के अनुसार समय-समय पर सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। इसके अलावा मरीजों के लिए शौचालय, स्नानघर, पेयजल, साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन न आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निदेश दिया। वहीं सेंटर में मेडिकल स्टाफ, डॉक्टर एवं पारा मेडिकल स्टाफ को बैठने हेतु आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निदेश दिया गया है। जिले में 264 बेड डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर व 220 बेड का कोविड केयर सेंटर संचालित: जिलाधिकारी ने बताया जिले में कुल 264 बेड का डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर है। जिसमे माता गुजरी मेडिकल हॉल में 120, महेशबथना डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में 93, एम एल जैन हॉस्पिटल में 24, रेडिएंट हॉस्पिटल में 17, जेड हॉस्पिटल में 20 तथा 220 बेड महिला आई टी आई कोविड केयर सेंटर एवं सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में कुल 140 आइसोलसन बेड संचालित हैं। डेडिकेटेड कोविड-19 सेंटर में सभी बेड ऑक्सीजन युक्त है। जिसमें गंभीर मरीजों का उपचार किया जा रहा है। बेड की संख्या में बढ़ोतरी की जाएगी ताकि मरीजों को बेहतर उपचार किया जा सके। कोविड में मीडिया का सहयोग जरूरी: डब्लूएचओ के एस एम् ओ डॉ अमित राव ने कहा कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में स्वास्थ्य कर्मी ने अपनी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाई है लेकिन कोरोना के प्रति लोगों में जागरूकता लाने में मीडिया की भूमिका सराहनीय है। इसे आगे भी बरकरार रखने की जरूरत है, जिससे लोगों का टीकाकरण समुचित रूप से सम्पन्न हो सके। डीपीआरओ रंजित कुमार ने भी कोरोना संक्रमण के मुश्किल दौर में मीडिया की महत्वपूर्ण भागीदारी को सराहा। उन्होंने कहा टीकाकरण की सफलता के लिए एक बेहतर वातावरण का निर्माण जरूरी है। इसके लिए मीडिया को सकारात्मक भूमिका निभानी होगी। इस दौरान सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन डीआईओ डॉ. रफत हुसैन, जिला प्रशासन की ओर से डीपीआरओ रणजीत कुमार, डीपीएम डॉ मुनाजिम, डब्लूएचओ के एसएमओ डॉ अमित कुमार रॉव, केयर इंडिया से डिटीएल प्रशान्जित, पाथ के मो आदिल, यूनीसेफ से एजाज एहमद के साथ विभिन्न मीडिया कर्मी उपस्थित रहे।