Mumkin hai India

  • Gallery

    कोविड से घबराने की जरूरत नही, कोविड की लड़ाई में टीकाकरण बहुत महत्वपूर्ण।

    2021-05-01

    लखनऊ:राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई, महर्षि सूचना प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, लखनऊ एवं राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, लखनऊ एवं मुख्यमंत्री जन कल्याणकारी प्र‌‌चार-प्रसार योजना (योग एवं चिकित्सा प्रकोष्ठ) उत्तर प्रदेश के संयुक्त तत्वाधान में चल रहे २१ दिवसीय ऑनलाइन विशेष स्वास्थ्य एवं योग शिविर के तेरहवें दिन के ऑनलाइन बेबिनार के विशिष्ट अतिथि श्री राजीव कुमार चतुर्वेदी, सहायक निदेशक, लखनऊ दूरदर्शन समाचार, उत्तर प्रदेश ने कहा कि कोविड से घबराने की जरूरत नहीं है,समाज विभिन्न उपलब्ध सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी भूमिका का सक्रियता के साथ निर्वहन करें, हम दूसरे को सकारात्मक चीजें बताएं एवं उससे लोगों को जुड़ने की प्रेरणा दें, जैसे मास्क लगाना,दो गज दूरी एवं समय-समय पर हाथ धोना । साथ ही सोशल मीडिया के वर्तमान युग में सभी से अपील की, कि इस मीडिया का उपयोग इस कोविड की वैश्विक चुनौती में बहुत ही संयमित एवं सकारात्मक रूप से करें एवं कोविड की लड़ाई में मीडिया की भूमिका को अहम बताया। बेबिनार के मुख्य अतिथि एवं मुख्य वक्ता प्रो. अरविंद जोशी, वरिष्ठ प्रोफेसर, समाजशास्त्र विभाग, काशी हिन्दू विश्वविद्यालय, वाराणसी ने प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा कि कोविड की लड़ाई में टीकाकरण बहुत महत्वपूर्ण है, टीकाकरण को लेकर समाज में व्याप्त भय, भ्रम एवं भ्रान्ति को दूर कर लोगों को टीका लगवाने हेतु प्रेरित करना होगा। प्रो. जोशी ने *"कोविड संक्रमण में समाज की भूमिका"* विषय पर कहा कि *सकारात्मकता का पोषण करना होगा एवं कोविड बीमारी का समुचित उपचार करना है, अनेक सीमाएं एवं कठिनाइयां है उसके बाद भी कोरोना को हराना है एवं मानवता को बचाना है, लाॅकडाउन अन्तिम विकल्प कहा जा रहा है, लेकिन उसके विषय में हमें सोचना भी नहीं है। कोविड की लड़ाई में जनसहभागिता को महत्वपूर्ण बताया। श्री सपन अस्थाना, आयोजक सचिव एवं अधिष्ठाता शैक्षणिक, महर्षि सूचना प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, लखनऊ ने जानकारी देते हुए बताया कि इस २१ दिवसीय ऑनलाइन बेबिनार का मुख्य उद्देश्य है कि कोविड कि लड़ाई में जन मानस को सकारात्मक विचारों से ओत-प्रोत करके कोविड पर विजय प्राप्त किया जा सके। डॉ कीर्ति विक्रम सिंह, मुख्य संयोजक एवं सहायक, क्षेत्रीय निदेशक, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय ने बेबिनार के शुभारंभ में सभी अतिथियों एवं प्रतिभागियों का स्वागत किया एवं कहा कि पिछले १३ दिन में इस बेबिनार से लगभग १५०० प्रतिभागी लाभान्वित हो चुके हैं और यह प्रेरणाप्रद व्याख्यान माला ०८ मई तक चलेगा। डॉ अंशुमाली शर्मा, विशेष कार्याधिकारी, राज्य सम्पर्क अधिकारी एवं राष्ट्रीय सेवा योजना प्रकोष्ठ, उच्च शिक्षा विभाग, उत्तर प्रदेश शासन ने इस २१ दिवसीय बेबिनार की प्रशंसा की एवं कहा कि यह पूरे उत्तर प्रदेश के स्वयंसेवकों एवं कार्यक्रम अधिकारियों में इस वैश्विक चुनौती के समय प्रेरणा का कार्य करेगा। इस अवसर पर डॉ मनोरमा सिंह, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, प्रो. भानू प्रताप सिंह, महर्षि सूचना प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, लखनऊ, प्रो. अखण्ड प्रताप सिंह, महर्षि सूचना प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, लखनऊ ने अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की। इस अवसर पर श्रीमती दीपा श्रीवास्तव, श्री अंकित श्रीवास्तव, डॉ करूनेश तिवारी सहित राष्ट्रीय सेवा योजना, उत्तर प्रदेश के विभिन्न कार्यक्रम समन्वयक, कार्यक्रम अधिकारी एवं स्वयंसेवक उपस्थित थे।