जम्मू कश्मीर के लोगों की भी सुनी जाए आवाज, अनुच्छेद 370 पर बोले : मनमोहन सिंह

नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह ने सोमवार को जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 समाप्त किए जाने पर अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि सरकार का यह कदम देश के कई लोगों को पसंद नहीं आया है. पूर्व प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि ‘आइडिया ऑफ इंडिया’ का विचार पुख्ता हो, इसके लिए जम्मू कश्मीर के लोगों की आवाज सुनी जानी चाहिए.

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि भारत अभी ‘गंभीर संकट’ के दौर से गुजर रहा है और अभी जरूरी है कि समान विचारधारा के लोग एकजुट हों.

मनमोहन सिंह ने दिल्ली में पत्रकारों से कहा, ‘इसका (अनुच्छेद 370 की समाप्ति) नतीजा देश के कई लोगों के पसंद के मुताबिक नहीं है. यह काफी अहम है कि ऐसे लोगों (जम्मू कश्मीर के निवासी) की आवाज सुनी जाए. दीर्घकाल तक ‘आइडिया ऑफ इंडिया’ का विचार बनाए रखने के लिए हमें अपनी आवाज उठानी चाहिए.’ जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 समाप्त किए जाने के बाद मनमोहन सिंह का यह कोई पहला बयान है.
केंद्र सरकार ने 5 अगस्त को एक बड़े फैसले के तहत जम्मू कश्मीर का विशेष दर्ज खत्म कर दिया था और इस प्रदेश को दो भागों में बांट दिया. एक भाग जम्मू कश्मीर का और दूसरा लद्दाख का. अब ये दोनों भाग अलग अलग केंद्र शासित प्रदेश बना दिए गए हैं.

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *